द्विवार्षिक निर्वाचन मतदेय स्थलों के संबंधित आयोजित बैठक हुई संपन्न Biennial Election meeting held related to ballot sites



उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए खंड स्नातक एवं खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र   

                                                            प्रमुख संवाददाता 




गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने जनपद गाजियाबाद के समस्त मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल के साथ विधान परिषद मेरठ खंड स्नातक/ खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों के मतदेय स्थलों पर विचार विमर्श करने के लिए कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में एक बैठक का आयोजन किया। जिसमें  जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय द्वारा आगामी विधानसभा निर्वाचन के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दृष्टिगत बीएलओ नियुक्त की जाने हेतु निर्देशित किया। जिसमें जनपद गाजियाबाद के समस्त मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों द्वारा जिला अधिकारी को आश्वस्त किया कि  हम अपने अपने बीएलओ नियुक्त कर देंगे।




जिसमें जिलाधिकारी ने जनपद गाजियाबाद के समस्त  मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल को बताया कि राज्य सभा तथा राज्य विधान परिषद के निर्वाचनों के लिए रिटर्निग आफिसरों की हस्तपुस्तिका के प्रस्तर 13.1 से 13.18 की ओर आकृष्ट करते हुए कहा कि उक्त प्रस्तर में दिये गये निर्देशो के अनुसार मतदेय स्थलों के प्रस्ताव निर्धारित प्रारूप पर राजनैतिक दलों की सहमति से तैयार कराये जाने है। जिलाधिकारी गाजियाबाद  अजय शंकर पांडेय द्वारा कोविङ -19 के दौरान प्रदेश में हो रहे विधान सभा के उप निर्वाचनों में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदेय स्थलों पर मतदाताओं की अधिकतम सीमा 1000 तक रखने के निर्देश दिये गये थे। 

उन्होंने कहा कि खण्ड स्नातक /खण्ड शिक्षक निर्वाचन हेतु बनाये जाने वाले मतदेय स्थलों पर मतदाताओं की अधिकतम सीमा 1000 तक ही रखी जाये मतदाताओं की सीमा 1000 से अधिक होने पर सहायक मतदेय स्थल बनाया जायेगा तथा मूल मतदेय स्थल से बनाये जाने वाले सहायक मतदेय स्थल को नया नम्बर आवंटित न करके मूल नम्बर का अ, ब,  स नम्बर दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त आयुक्त मेरठ मण्डल मेरठ /रिटर्निग आफिसर उत्तर प्रदेश विधान परिषद मेरठ खण्ड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र द्वारा निर्देशित किया गया है कि विधान परिषद मेरठ खण्ड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन 2020 हेतु प्रस्तावित मतदेय स्थलों के प्रस्ताव निर्धारित प्रारूप पर राजनैतिक दलों की सहमति से तैयार कराएं जाएंगे, जिसमें प्रस्तावित मतदेय स्थल राजनैतिक दलों की बैठक का कार्यवृत संवीक्षा पत्रक तथा प्रमाण पत्र एवं मानचित्र आदि तीन - तीन प्रतियों में जिला निर्वाचन अधिकारी के हस्ताक्षर से तत्काल जिला निर्वाचन कार्यालय मेरठ में उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये गये हैं। 

इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी गाजियाबाद में बताया कि मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश लखनऊ एव आयुक्त मेरठ मण्डल मेरठ /रिटर्निग आफिसर मेरठ खण्ड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से प्राप्त उक्त निर्देशों के कम में विधान परिषद के स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के प्रस्तावित मतदेय स्थलों के सम्बन्ध में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों तथा समस्त उप जिलाधिकारियों के साथ उक्त मतदेय स्थलों को अंतिम रूप देते हुए आयुक्त मेरठ मण्डल मेरठ /रिटर्निग आफिसर उ0प्र0 विधान परिषद स्नातक ध् शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र को तत्काल भेजा जाना प्रस्तावित है। 

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व यशवर्धन श्रीवास्तव, समस्त तहसीलदार, संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment