हाईटेक सिटी: आदित्य वर्ड सिटी से प्रभावित किसान 2 माह से धरने पर बैठे, कोई सुनवाई नहीं Hitech City: Aditya Word City affected farmers sit on dharna for 2 months, no hearing


                                                     सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 




गाजियाबाद। किसान संघर्ष समिति बम्हैटा के बैनर तले बम्हैटा, महरौली, नायफल, काजीपुरा,बयाना सहित कई गांवों के किसान 9 सितम्बर 2020 से धरने पर बैठे हैं । एडवोकेट रूपम यादव का आरोप है कि हाईटेक सिटी, आदित्य वर्ड सिटी के पदादिकारी, सरकारी अधिकारिओं से सांठ-गांठ करके किसानों की जमीनों पर अवैध कब्जा करने का प्रयास कर रहे है, जिसमे की गाजियाबाद विकास प्राधिकारण द्वारा अधिग्रहण से सम्बन्धित मुकदमे हाईकोट में विचाराधीन है।

उन्होंने बताया कि सुप्रीमकोर्ट के दिशा निर्देश के अनुसार (धारा 6) पर रिव्यू पिटीशन तथा धारा (5 क) की आपत्ति हाईकोर्ट में विचाराधीन होते हुए जिनपर कोई निर्णय किसानों के खिलाफ नहीं आया है अर्थात अधिग्रहण से सम्बंधित समस्तवाद न्यालय में विचाराधीन होने के बावजूद उपर्युक्त बिल्डर, जीडीए तथा जिला प्रशासनिक अधिकारिओं से मिलकर किसानों की जमीन पर अवैध कब्जा करने का तथा किसानों की खड़ी फसलों को तहस-नहस कर रहे है। एडवोकेट रूपम यादव बताते है कि एडीएम सिटी शैलेन्द्र कुमार, एसडीएम देवेन्द पाल , तहसील प्रवर्धन तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारी सैकड़ों अर्धसैनिक बलों के जवानों को तथा क्षेत्रीय पुलिस को लेकर किसानों की जमीनों पर कब्जा करना चाहते है, जिन्होंने आजतक न तो कोई करार किया है न जमीन बेची है और न ही बिल्डर का कब्जा है।

उपर्युक्त प्रशासनिक अधिकारी गांव की औरतें बच्चे बूढ़े आदि समस्त लोगों को फोर्स के साथ जाकर धमकाते है और कहते है और कई निर्दोष लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में झूठे मुकदमे दर्ज करा चुके है जिससे उपर्युक्त गांव में लोगों में भय का माहौल व्याप्त है। गाजियाबाद के वरिष्ठ समाजसेवी श्री सिकंदर यादव भी धरना स्थल पर पहुंचे और किसानों की बात सुन साथ देने का वादा किया।

इस मौके पर किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष भीष्म यादव, उपाध्यक्ष जयवीर पहलवान संचालक एडवोकेट रूपन, डॉक्टर किशन यादव, इक्षा यादव, पदम सिंह यादव, शैलेश यादव, महेश यादव, अशोक यादव, धर्मपाल यादव, कपिल यादव, बाबू यादव, महेंद्र यादव, बृजेश यादव, बिन्नी,यादव देवेंद्र यादव, प्रमोद यादव, चरण सिंह यादव, बलवीर यादव, लाला यादव, रतन सिंह यादव, जीतराम यादव, सुशील यादव, हरीश यादव, धर्मवीर यादव, बिन्नी यादव, ज्ञानी यादव, नानक यादव, पूरन सिंह दीवान, सतपाल एडवोकेट ,चरण सिंह एडवोकेट, जगत यादव और भीम यादव पूनम यादव , कृष्णा यादव , हरकली यादव , सरोज यादव , सीमा यादव , रीना यादव,  आदि लोगों के साथ सैकड़ों लोग धरने पर है। समिति के लोगों का कहना है कि गाजियाबाद के विधायक सांसद से लेकर सभी से मिल चुके हैं बावजूद इसके उनकी कोई भी सुनवाई नहीं हो रही है। 


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment