कबूतरबाजी का शिकार हुए अनेक युवक Many youths became victims of pigeon




                                                        सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो

                                                                      कबूतरबाजी के शिकार युवक। 


साहिबाबाद। विदेश (कुवैत) में नौकरी दिलाने के नाम पर यूपी और बिहार के करीव एक दर्जन  युवक गाजियाबद में कबूतरबाजी का शिकार हो गये और कमाई तो हुई नहीं अपनी जेव खाली करा बैठे। अब वे विदेश भेजने वाली कंपनी और एजेंट के चक्कर काट रहे हैं। थक हार कर वेरोजगार युवक पुलिस की शरण में है तथा पुलिस मामले की जांच कर रही है।
        
युवकों ने बताया कि कौशांबी थाना क्षेत्र के वैशाली सेक्टर-3 में फ्रलाईलाइन इंटरनेशनल नाम की एजेंसी ने उन्हें विदेश में नौकरी दिलाने का भरोसा दिलाया था तथा उनकेे वीजा व पासपोर्ट जारी कर कुवैत भेजने का सपना दिखाया था। इस एजेंसी के संपर्क में बिहार और यूपी के गाजीपुर जनपद से एक दर्जन से अधिक युवक आए और आवेदन कर दिया। युवकों ने बताया कि प्रत्येक से 60 हजार रुपए लिए गए हैं। जब वे युवक विदेश जाने का सपना संजोए गाजियाबाद आए तो न तो यहां कोई ऑफिस मिला और न कोई कर्मचारी। तब जाकर इन युवको का खुद के साथ हुई ठगी का पता चला। ठगे गए युवकों के नाम बिहार के भोजपुर से रोहित महतो, संजय कुमार, सरोज कुमार के अलावा बक्सर से विकास कुमार यादव, अजय कुमार यादव, सतेन्द्र कुमार महतो, रमेश कुमार यादव और गाजीपुर यूपी से पंकज सिंह आदि हैं।
      
युवकों की शिकायत की जांच थाना कौशाम्बी पुलिस कर रही है लेकिन अभी पुलिस को कोई कामयावी नहीं मिली है।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment