लोगों की जागरूकता से गोकशी करने वाला गिरोह गिरफ्तार Gang of gangsters arrested by awareness of people




                                                 सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

                       भीड़ को समझाते सिटी मजिस्ट्रेट व एएसपी। 

साहिबाबाद । लोगों की जागरूकता से थाना टीला मोड़ क्षेत्र हर्ष विहार द्वितीय में एक डेयरी की आड़ में अवैध रूप से चल रहे गोवध के अवैध धंधे का भंडाफोड़ किया गया है। इस मामले में पुलिस ने एक सशस्त्र मुठभेड़ के बाद एक गोवध के आरोपी सहित 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इस गिरोह से गोकशी करने के सामान, रस्सी, छुरे  तथा अवैध हथियार बरामद किए गए हैं। 
      
जानकारी के अनुसार हर्ष विहार द्वितीय की गली नंबर 5 में एक डेयरी के अंदर अवैध रूप से गोवध की जानकारी आसपास के लोगों को लगी थी। यह सूचना स्थानीय निवासियों ने पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने  5 लोगों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया तथा एक फरार व्यक्ति को कुछ देर बाद मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। मुठभेड़ में आरोपी को गोली लगी है। इस सफलता के बावजूद आसपास के लोगों को पुलिस पर भरोसा नहीं था और उन्होंने कई घंटे पुलिस को गौवंश के अवशेष नहीं उठाने दिये। लोगों ने पहले प्रशासन के सामने यही मांग रखी कि मीडिया के आने के बाद ही यहां से अवशेष हटाने देंगे। मौके की नजाकत को देखते हुए सिटी मजिस्ट्रेट षिवप्रताप षुक्ला एवं एएसपी केषव कुमार मौके पर पहुंचे और लोगों को समझा बुझाकर शांत करने का प्रयास किया। इस अवसर पर क्षेत्रीय पार्षद बाबू सिंह आर्य और हिंदू रक्षा दल के नेता पिंकी चैधरी भी अपने साथियों के साथ मौजूद थे । दोनों नेताओं ने गोकशी करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की मांग की। इस पर मिले आश्वासन के बाद ही निवासियों ने गौ वंश के अवशेषों को पुलिस को उठाने दिया।
   
एएसपी केशव कुमार ने बताया कि यह मकान राजेश फौजी व जगरूप उर्फ जग्गा का है । उन्होंने मोहम्मद साजिद को किराए पर डेयरी चलाने के लिए इसे दे रखा है । पुलिस ने इस मामले में कासिम अहमद पुत्र मुख्तार अहमद निवासी गौतम विहार गड्ढे वाली मस्जिद कल्याण सिनेमा उस्मानपुर दिल्ली, साजिद पुत्र रफीक अहमद, आसिफ पुत्र रफीक अहमद, आरिफ पुत्र मोहम्मद इशाक, रफीक पुत्र इस्लामुद्दीन, आबिद पुत्र रफीक निवासीगण हर्ष विहार द्वितीय थाना क्षेत्र टीला मोड़ को गिरफ्तार किया है। कासिम अहमद को मुठभेड़ में गोली लगी है और वह घायल है। इस गिरोह से  पशुओं के पैर बांधने की रस्सी ,हत्या करने वाला छुरा और गड़ासा, नुकीला सरिया तथा एक तमंचा 315 बोर कारतूस तथा खोखा और गायों के अवशेष के अलावा एक आटो बरामद किया गया है। सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। 


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment