उधोग व्यापार को गति देने के लिए निर्यात बाजार का कल होगा शुभारंभ Export market will be launched tomorrow to accelerate industry trade



  • लगत मूल्य पर विभिन्न जनपदों के हस्तशिल्प उत्पाद मिलेंगे

  • कैबिनेट मंत्री, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन तथा खादी एवं ग्रामोद्योग, उत्तर प्रदेश सरकार  सिद्धार्थ नाथ सिंह 2कल करेंगे। 

                                                  सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 




गाजियाबाद । उपायुक्त उद्योग बीरेंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया है कि माननीय मुख्यमंत्री जी उत्तर प्रदेश शासन की प्रेरणा से प्रदेश के उद्योग एवं व्यापार को कोरोना संकट से उबारने के लिए एवं उद्योग व्यापार को त्वरित गति प्रदान करने के लिए कैरोल इंफ्रास्ट्रक्चर तथा उत्तर प्रदेश निर्यात संवर्धन परिषद लखनऊ के सहयोग से जनपद में एक निर्यात बाजार का शुभारंभ राजनगर एक्सटेंशन गाजियाबाद में स्थित रिवर हाइट, जी डी गोयनका स्कूल के पीछे दिनांक 2 अक्टूबर 2020 से किया जा रहा है।

कार्यक्रम का शुभारंभ सिद्धार्थ नाथ सिंह माननीय कैबिनेट मंत्री, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन तथा खादी एवं ग्रामोद्योग, उत्तर प्रदेश सरकार  द्वारा किया जा रहा है। यह एक्सपोर्ट बाजार 2 अक्टूबर से प्रारंभ होकर 3 माह तक निरंतर संचालित होगा एक्सपोर्ट बाजार में एक जनपद एक उत्पाद अंतर्गत चिन्हित प्रदेश के विभिन्न जनपदों के हस्तशिल्प उत्पाद जैसेरू- मुरादाबाद का पीतल, सहारनपुर का लकड़ी फर्नीचर , आगरा का मार्बल ,फिरोजाबाद की चूड़ियों सहित प्रदेश के बाहर के निर्यातकों द्वारा उत्पादित माल भी एक्सपोर्ट बाजार में विक्रय हेतु उपलब्ध होगा। दिल्ली के बंगाली समोसे, बड़ौत की टितेहरी ,बुलंदशहर का मटरा , मुरादाबाद की दाल, गुजरात का थंब ढोकला, महाराष्ट्र का रगड़ा,  पंजाब का पालक पुलाव एवं चुरचूर नान जैसी खानपान की सुविधाएं इस बाजार में उपलब्ध रहेंगे। यह बाजार प्रतिदिन प्रातः 9 बजे से रात्रि 9 बजे तक संचालित किया जाएगा। एक्सपोर्ट बाजार स्थाई रूप से निर्मित दुकानों पर सामान्य बाजार एवं मॉल की प्रक्रिया में संचालित किया जाएगा जिसमें आने जाने वाले व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग ,सैनिटाइजेशन शारीरिक दूरी तथा कोविड-19 हेतु भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार द्वारा निर्गत की गई गाइडलाइंस का पूर्ण अनुपालन कराते हुए संचालित कराया जाएगा।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment