अंतर्राज्यीय ई रिक्शा चोर गिरोह गिरफ्तार Inter-state e-rickshaw thief gang arrested


                                                            सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो

 

साहिबाबाद । थाना साहिबाबाद पुलिस ने शुक्रवार की देर शाम शालीमार गार्डन क्षेत्र से ई-रिक्शा चोरी करने वाले एक ऐसे अंतरराज्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया है जिसने विभिन्न राज्यों से एक सौ से अधिक ई रिक्शा चोरी किए हैं। इस गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही से पुलिस ने सात चोरी के ई रिक्शा बरामद किए हैं।
        

जानकारी के अनुसार एसएसपी गाजियाबाद कलानिधि नैथानी के निर्देश पर थाना साहिबाबाद पुलिस द्वारा चलाए गये चेकिंग अभियान के अंतर्गत शुक्रवार की देर शाम मुखबिर की सूचना पर कृष्णा जूस कॉर्नर शालीमार गार्डन से चार व्यक्तियों को चोरी के एक ई रिक्शा के साथ  गिरफ्तार किया गया। इन लोगों ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वे विभिन्न राज्यों से अब तक करीब एक सौ ई रिक्शा चोरी कर बेच चुके हैं। फिलहाल उनके पास चोरी के छह ई रिक्शा और हैं जो उन्होंने  छुपा कर पप्पू कालोनी के कब्रिस्तान में खड़े किए हुए हैं। बाद में इनकी निशानदेही से चोरी के छह और ई रिक्शा  पुलिस द्वारा बरामद कर लिए गए। गिरफ्तार ई-रिक्शा चोरों के नाम पुलिस ने जाबिर पुत्र मोहम्मद आविद निवासी 142 पप्पू कॉलोनी गली नंबर 2 उस्मान का किराएदार मूलनिवासी ईदगाह वाली गली नसबंदी कॉलोनी कब्रिस्तान के पास डावर तालाब लोनी, रईसुद्दीन पुत्र अतीक निवासी 112 पप्पू कॉलोनी गली नंबर 2 मूल निवासी ग्राम बड़ेमगंज पुरिया बुढ़िया के पास  फर्रुखाबाद, सरफराज पुत्र मुस्तकीम निवासी 301 न्यू सीमापुरी नियर दीया मस्जिद 70 फुटा रोड सीमापुरी दिल्ली तथा यामीन पुत्र अब्दुल मजीद निवासी 10 मुस्तफाबाद नियर सितारा मस्जिद थाना लोनी गाजियाबाद हैं। इनका एक साथी फिरोज निवासी सभा गार्डन पानी की टंकी के पास मुस्तफाबाद लोनी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया। पुलिस इस गिरोह के खिलाफ गिरोह बंद कानून के तहत कानूनी कार्रवाई की तैयारी कर रही है। 
      गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार शाही ,उपनिरीक्षक अन्नू कुमार, अभिनव कुमार ,नरेंद्र कुमार, मोहित कुमार के अलावा कांस्टेबल मुनेंद्र एवं चालक विकास ने मुख्य भूमिका अदा की ।
फोटो कैप्शन- चोरी के ई रिक्शा के साथ आरोपी । फाइल एफ-1



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment