कोविड - 19: महामारी में 20 जुलाई से मास्क प्रयोग न करने पर 500 रुपए जुर्माना Kovid - 19: Rs 500 fine for not using masks in epidemic from July 20



  • 20 जुलाई से मास्क का प्रयोग न करने वालों के विरुद्ध जिला प्रशासन संचालित कर रहा है सघन अभियान।

  • संबंधित अधिकारियों के द्वारा इस कार्य को मूर्त रुप प्रदान करने के उद्देश्य से विशेष टीमों का किया गया गठन।

                                                                  विशेष संवाददाता 



गाजियाबाद। कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने एवं कोरोना के संक्रमण को जनपद में फैलने से रोकने के लिए जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा निरंतर स्तर पर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। इस श्रंखला में जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय के द्वारा एक बड़ा निर्णय लेते हुए 20 जुलाई से जनपद में अब मास्क ना लगाने वालों की खैर नहीं होगी। डीएम के निर्देश पर जनपद में विशेष अभियान संचालित होने जा रहा है जिसमें मास्क एवं गमछे का प्रयोग न करने वाले नागरिकों के विरुद्ध जिला प्रशासन सख्ती से पेश आकर 500 रुपए का जुर्माना लगाएगा। इसके लिए जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय ने सभी थानाध्यक्षों, प्रशासनिक अधिकारियों एवं इंसीडेंट कमांडरों शक्ति के साथ अभियान संचालित करते हुए कार्यवाही करने के कड़े निर्देश दिए हैं। 

सभी अधिकारियों के द्वारा अपने अपने क्षेत्र में इस कार्य के लिए 20 जुलाई से विशेष सघन अभियान संचालित किया जाएगा और मास्क ना पहनने वाले नागरिकों पर 500 रुपए जुर्माना लगाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। वहीं दूसरी ओर नगर आयुक्त कार्यालय के अधिकारियों को भी इस कार्य के लिए अधिकृत किया गया है ताकि उनके द्वारा भी अपने स्तर पर सघन अभियान संचालित करते हुए मास्क का प्रयोग न करने वाले नागरिकों पर जुर्माने लगाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जा सके। जिला अधिकारी अजय शंकर पांडेय ने सभी जनपद वासियों का आह्वान करते हुए उन्हें सचेत किया है कि जनपद में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के उद्देश्य से घर से बाहर निकलने पर सभी आम नागरिक मास्क एवं घरेलू गमछे का प्रयोग अवश्य करें अन्यथा की स्थिति में उन्हें जुर्माना भरना होगा। जिलाधिकारी ने इस संबंध में जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि इस कार्य को जनपद में मूर्त रूप प्रदान करने के उद्देश्य से सभी संबंधित अधिकारियों के द्वारा अपने अपने स्तर पर विशेष टीमों का गठन किया गया है। 


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment