ओबीसी के बेरोजगारों को दिया जायेगा O लेवल और CCC कंप्यूटर प्रशिक्षण





                                                 सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

गाजियाबाद । उत्तर प्रदेश शासन, पिछड़ा वर्ग कल्याण अनुभाग-2 के शासनादेश संख्या-6/2018/190/64-2-2018-1(64)/2006, दिनांक 27 फरवरी 2018 द्वारा पिछड़े़े वर्ग के बेरोजगार युवक/युवतियो के लिए संचालित ’’ओ’’ लेवल एवं सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिये जाने की योजना संचालित है। 
 
वित्तीय वर्ष 2020-21 में इस योजना के अन्तर्गत भारत सरकार की अधिकृृत संस्था ’नीलिट’ से मान्यता प्राप्त जनपद में कार्यरत संस्थाओं द्वारा अन्य पिछड़े वर्ग के युवक/युवतियों को ’ओ’ लेवल एवं सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिये जाने हेतु आॅनलाईन आवेदन किये जाने की तिथि 20 जून से 26 जून 2020 तक होगी। पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश की वेबसाइट http://backwardwelfare.up.nic.in एव obccomputertraining.upsdc.gov.in
 पर दिये गये लिंक के माध्यम से निर्धारित प्रारूप पर संस्था द्वारा आॅनलाईन पंजीकरण किया जा सकता है। इस हेतु दिशा-निर्देश व समय-सारणी उक्त वेबसाईट पर प्रदर्शित कर दी गयी है।
 
आवेदन करने के उपरान्त संस्था द्वारा आॅनलाइन भरे गये आवेदन की प्रति डाउनलोड कर प्रिन्ट आउट प्राप्त कर हस्ताक्षरित करते हुए समस्त अभिलेखों तथा उपलब्ध संसाधनों से संबंधित विवरण सहित निदेशक, पिछड़ा वर्ग कल्याण, उत्तर प्रदेश, 10वाॅ तल, इन्दिरा भवन, अशोक मार्ग, लखनऊ-226001 एवं जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी, गाजियाबाद कार्यालय में में दिनंाक 26 जून 2020 सांय 5ः00 बजे तक अनिवार्य रूप से हार्ड काॅपी में उपलब्ध करायी जायेगी। 
 
संस्था द्वारा आॅनलाइन आवेदन में भरी गयी सूचना एवं उपलब्ध कराये गये अभिलेखों का परीक्षण तथा संस्था की आधारभूत संरचनाओं का भौतिक सत्यापन कराते हुए निदेशक, पिछड़ा वर्ग कल्याण की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु संस्थाओं का चयन किया जायेगा। चयनित संस्थाओं द्वारा अन्य पिछड़े वर्ग के युवक/युवतियों को ’ओ’ लेवल एवं सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिया जाना है। जनपद के अन्य पिछड़े वर्ग के युवक/युवतियों द्वारा “ओ“ लेवल एवं सी0सी0सी0 कम्प्यूटर प्रशिक्षण करने हेतु दिनांक 21 जुलाई से 05 अगस्त 2020 तक पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश की वेबसाइट http://backwardwelfare.up.nic.in एव obccomputertraining.upsdc.gov.in
 पर दिये गये लिंक के माध्यम से निर्धारित प्रारूप पर आॅनलाईन आवेदन किया जा सकता है। 
प्रशिक्षणार्थियों द्वारा आॅनलाईन आवेदन के साथ संलग्न अभिलेखों में यदि कोई सूचन,तथ्य त्रुटिपूर्ण, गलत, फर्जी पाये जाते है, तो इसका पूर्ण उत्तरदायित्व सम्बन्धित प्रशिक्षणार्थियों का होगा। जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी के पास ऐसे आवेदनों को निरस्त करने का पूर्ण अधिकार होगा। निर्धारित तिथि के उपरान्त ऐसे आवेदनों पर पुनः विचार नही किया जायेगा। यह जानकारी जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी रजनीश कुमार पाण्डेय ने दी है। 

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment