प्रभारी मंत्री गाजियाबाद सुरेश खन्ना ने अस्पतालों का किया निरीक्षण Minister in charge Ghaziabad Suresh Khanna inspected hospitals





  • अस्पताल की सभी इमरजेंसी सेवाएं स्टार्ट होंगी एवं सभी तरह के पेशेंट को देखा जाएगा।


  • सरकार अपनी तरफ से पूरा प्रयास एवं कोशिश कर रही है कि संक्रमण को किसी भी तरह से रोका जाए


                                                     प्रमुख संवाददाता 

गाजियाबाद । मंत्री वित्त संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेशध् व प्रभारी मंत्री गाजियाबाद, सुरेश खन्ना ने गाजियाबाद के अस्पतालों का निरीक्षण किया। उन्होंने एल 3 संतोष हॉस्पिटल का निरीक्षण किया जिसमें उन्होंने कोविड-19 के मरीजों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। उन्होंने  बताया कि गाजियाबाद में कोरोना पेशेंट ज्यादा  डिस्चार्ज हुए हैं एवं उनकी रिकवरी का प्रतिशत अच्छा है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि 94 एक्टिव पेशेंट विभिन्न स्1, स्2 एवं स्3 हॉस्पिटल में भर्ती है। आज के अपने निरीक्षण में उन्होंने संतोष मेडिकल अस्पताल में भर्ती 07 कोरोना पेशेंट से बात की जिन्होंने कहा कि वो सभी कंफर्टेबल हैं और प्रशासन उनका विशेष ध्यान रख रहा है। सभी पेशेंट्स ने यह बताया कि उनके खाने-पीने, सफाई एवं उपचार का प्राथमिकता पर ध्यान रखा जा रहा है।


इस अवसर पर  माननीय मंत्री जी ने बताया कि हमारा फोकस विशेष रुप से इमरजेंसी सेवाओं को जल्द से जल्द बहाल करने पर है क्योकि कोरोना मरीजों को तो हम बचा रहे हैं लेकिन अन्य बीमारियों के जो मरीज हैं उन लोगों को भी अब हमें बचाना है।  उन्होंने कहा कि अस्पताल की सभी इमरजेंसी सेवाएं स्टार्ट होंगी एवं सभी तरह के पेशेंट को देखा जाएगा। मंत्री जी ने कहा की यदि कोई सरकारी निर्देशों को मानेंगे तो इस बीमारी से बचे रहेगा। ये बीमारी विकराल रूप नहीं लेगी। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों से बातचीत करते समय मरीजों द्वारा प्रभारी मंत्री जी को बताया गया कि उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया यही वजह है कि वह संक्रमित हुए। उन्होंने कहा कि जो भी कोरोना वायरस संबंधित सरकारी निर्देश नही मानेंगे, 02 गज की दूरी का पालन नहीं करेंगे, मास्क नहीं लगाएंगे एवं सावधानी नही बरतेंगे तो कोरोना से पीड़ित हो सकता है, इसलिए हम लोगों को विशेष तौर पर कोरोना प्रोटोकॉल का अनुपालन करना चाहिए। सरकार अपनी तरफ से पूरा प्रयास एवं कोशिश कर रही है कि संक्रमण को किसी भी तरह से रोका जाए जिसके लिए किसी तरह की कोई ढील नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जान है तो जहान है।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी, मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, पुलिस अधीक्षक नगर, अपर जिलाधिकारी नगर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment