लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट ने संत कबीर दास को किया याद Lok Shiksha Abhiyan Trust remembers Sant Kabir Das





  • जनमदिवस के मौके पर जरूरतमंदों को बांटा गया खद्य सामग्री 


                                                     सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

गाजियाबाद । लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट द्वारा ज्ञानपीठ केन्द्र 1, स्वरुप पार्क साहिबाबाद के प्रांगण में धर्मनिरपेक्षता की मिसाल, मानवतावादी, प्रेम, सद्भाव की अलख जगाने वाले, कर्मकाण्ड, अन्धविश्वास, पाखण्ड के घोर विरोधी, ज्ञानमार्गी शाखा के प्रमुख सन्त कबीर दास जी का जन्म दिन चित्र पर पुष्प अर्पित कर मनाया गया । कार्यक्रम में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए संस्थापक अध्यक्ष राम दुलार यादव, वीरेन्द्र यादव एडवोकेट ने पुष्प अर्पित किया तथा आयोजन इंजी0 धीरेन्द्र यादव ने किया। 
   
इस अवसर पर राम दुलार यादव ने कहा कि सन्त कबीर समाज में व्याप्त रूढ़िवाद, पाखण्ड, कर्मकाण्ड, अंधविश्वास के घोर विरोधी रहे, उनका मानना था कि समाज, देश में प्रेम, सद्भाव, समानता, समता से ही सम्पन्नता आयेगीद्य असहिष्णुता, नफरत से न कोई देश, न समाज समरस हो सकता है, न आर्थिक रूप से मजबूत हो सकता है। आज भी हमारा समाज जातिवाद, धार्मिक पाखण्ड, मानव द्वारा मानव के शोषण के दल-दल में फंसा हुआ है, 21वीं सदी में भी हम भेदभाव, ऊँच-नीच, जात-पात के जाल में फँसे हुए है, हमें उपरोक्त बुराइयों से निजात पाने की आवश्यकता है, समावेशी समाज बने, इसके लिए प्रयास करते रहना चाहिए। कबीर साहिब ने समाज में व्याप्त झूठ पर भी कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि यहाँ के लोग झूठ, पाखण्ड पर विश्वास करते है, सच कहने पर मारने को दौड़ते हैं, क्योंकि सच से उनकी दुकानदारी पर असर पड़ता है। उन्होंने कहा है - “सोधो सारा जग बौराना, सांच कहे जग मारन धावे, झूठे जग पतियाना”। आज कितना ही बड़ा झूठ बोलो, न बोलने वाले को शर्म आती, न सुनने वाला ही प्रतिक्रिया व्यक्त करता।  
   

कोरोना वैश्विक महामारी ने देश की आर्थिक स्थिति को भयावह स्थिति में पहुंचा दिया है, करोड़ों देशवासियों के सामने दो जून की रोटी का संकट पैदा हो गया हैद्य मजदूर बेहाल है, छोटे कारोबारी, ठेली-पटरी वाले का भी कारोबार चैपट हो गया है, छोटे उद्योग धंधे बन्द है। केन्द्र व उ0प्र0 की सरकार सीधे चिन्हित कर जब तक राहत राशि इनके खाते में नहीं डालेगी, इनका कारोबार चैपट ही रहेगा, बाजार में भी रौनक नहीं होगी। इस अवसर पर मेरी मांग है कि राहत राशि सीधी मिलनी चाहिए, समाज, देश में तरलता आयेगी, तथा देश की आर्थिक हालत सुधरेगी। कोरोना महामारी से लड़ने वाले डाक्टरों, नर्सों, सुरक्षा कर्मियों का भी इस अवसर पर शुभ कामनाओं के साथ आभार व्यक्त किया गया कि वे कठिन परिस्थिति में अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं। 
  
कबीर साहिब के जन्म-दिन के अवसर पर आज भी जरुरतमंद परिवारों में खाद्य सामग्री वितरित की गयी तथा कमजोर वर्गों में मास्क भी वितरित किया गया। खाद्य वितरण का कार्य लोक शिक्षण अभियान ट्रस्ट वीरेन्द्र यादव एडवोकेट के साथियों के सहयोग से 24 मार्च से आज तक वितरित करने का कार्य कर रहा है। संजू शर्मा, बिन्दू राय ने मास्क, अवधेश यादव, अंशु ठाकुर, सुरेन्द्र यादव ने राशन वितरित किया। गुड्डू यादव, विनोद ने भी कबीर साहेब के चित्र पर पुष्प अर्पित किया।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment