बिहार: सीएम नितिश कुमार ने किया स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव का तबादला Bihar: CM Nitish Kumar transferred Principal Secretary of Health Department






  • स्वास्थ्य मंत्री और सचिव के बीच थी तालमेल की कमी


  • पीपीई किट खरीद में घोटाले की आशंका


                                                    सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

पटना । बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना संकट के बीच स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार का तबादला कर दिया गया है। संजय कुमार को पर्यटन विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया है, वहीं संजय कुमार की जगह पर्यटन के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत को स्वास्थ्य विभाग प्रधान सचिव बनाया गया है।

जानकारी के अनुसार बिहार में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने से मुख्यमंत्री नितिश कुमार काफी परेशान थे। वहीं स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और प्रधान सचिव संजय कुमार के बीच तालमेल की कमी थी, जिसका नतीजा था कि दोनों के तरफ से कोरोना मरीजों का आकड़ा जारी किया जा रहा था। बताया जाता है कि दोनों के आंकड़ों में अंतर होता था। सोशल मीडिया पर प्रधान सचिव और मंत्री के बीच आंकड़ों को सार्वजनिक करने को लेकर अटकलें लगाई जाने लगी थीं। संजय कुमार 1990 बैच के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी हैं। दोनों में कई मुद्दों को लेकर सहमति नहीं थी । 

बिहार में अब तक 52 हजार कोरोना वायरस टेस्ट कराए जा चुके हैं। कोविड-19 की जांच के लिए 14 सेंटर बनाए गए हैं। हर दिन करीब 2000 टेस्ट किए जा रहे हैं। इसके बावजुद बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के 60 नये मामले प्रकाश में आने के साथ प्रदेश में कोविड-19 से संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़कर 1,579 हो गयी है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चाहते हैं कि हर दिन 10 हजार टेस्ट किए जाएं। बिहार में प्रवासी मजदूर दूसरे राज्यों से अब लौट रहे हैं। अगर ऐसी ही जांच होती रही तो मुख्यमंत्री का टारगेट पूरा नहीं हो पायेगा। दूसरा क्वारटाइन सेंटर में नाच - गान के मामले सामने आने से भी बिहार सरकार की भारी फजीहत हुई है। 

सूत्रों के अनुसार प्रधान सचिव स्वास्थ्य संजय कुमार पर पीपीई किट खरीद में भी फेराफेरी का मामला सामने आ रहा है। हालांकि अभी यह गोपनीय है तथा इसकी जांच भी गोपनीय स्तर पर कराया जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि बिहार सरकार ने एक लाख पीपीई कीट खरीद दिखाई है। दूसरी तरफ ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि प्रधान सचिव के देखरेख में पीपीई किट के जगह मुर्दो को ढकने वाला किट लीक प्रूफ बैग ही गलती से खरीदा गया था। बात अभी दबी है लेकिन देर सबेर तो सामने आयेगी।  माना जा रहा है कि इन्हीं सभी वजह से उनका तबादला किया गया है।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment