कलेक्शन एजेंट से हुई लूट का खुलासा Robbery revealed from collection agent



                                                       लूट की बारदात को अंजाम देने वाले।

सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

साहिबाबाद ।  थाना टीला मोड़ पुलिस ने 5 दिन पहले गरिमा गार्डन में एक बैंक के कलेक्शन एजेंट से हुई एक लाख बीस हजार रूपये की लूट का खुलासा करते हुए 2 लोगों को गिरफ्तार कर लूट का  कैश, टैव मशीन, बैग और घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाइकिल व हथियार बरामद किये हंै।
       
जानकारी के अनुसार थाना टीला मोड़ क्षेत्र की गरिमा गार्डन कॉलोनी में पंकज नाम के एक कलेक्शन एजेंट से दो सशस्त्र बदमाशों ने नगद एक लाख बीस हजार रूपये लूट लिया था । इसकी विवेचना में एसआई अनिरुद्ध कुमार कर रहे थे। उन्हें मुखबिर से हुई जानकारी के आधार पर चेकिंग के दौरान कोयल एनक्लेव के सामने से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया । बाद में उनकी निशानदेही से  लूटा गया बैग, एक टैव मशीन और 37800रूपये नगद के अलावा घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल और अवैध हथियार बरामद हुए। गिरफ्तार बदमाशों के नाम वीरसेन शर्मा पुत्र कालीचरण शर्मा निवासी गांव खंजरपुर थाना मोदीनगर तथा आकिल पुत्र मोहम्मद अली उर्फ नन्हे निवासी इरशाद कॉलोनी गरिमा गार्डन थाना  क्षेत्र टीला मोड़ हैं। आरोपियों ने बताया कि आकिल पहले भी थाना लोनी से अनेक मामलों में जेल जा चुका है और वह इरशाद गार्डन गरिमा गार्डन कॉलोनी में ही रहता है। इसलिए उसे पंकज द्वारा की जाने वाली कलेक्शन मनी की पूरी जानकारी थी। पीड़ित पंकज उज्जैनी स्मॉल फाइनेंशियल बैंक के लिए काम करता था तथा वह स्वयंसेवी समूह की महिलाओं से रोजाना धन एकत्र करता था। जो करीब दो लाख रोजाना होता था। स्थानीय निवासी होने के कारण  आकिल को यह जानकारी थी । आकिल ने योजना बनाकर अपने साथी वीरसेन शर्मा व दूसरे साथी मुकेश के साथ मिलकर इस लूट की घटना को अंजाम दिया। आकिल  इस घटना के समय थोड़ा दूर हटकर खड़ा हुआ क्योंकि वह वहीं का रहने वाला  था जिससे वह पहचान में ना आए। घटना को अंजाम देने के बाद वीरसेन व मुकेश ने आकिल को 25 हजार रूपये दिए और शेष रकम आपस में बांट ली थी ।
      
वीरसेन ने अपने हिस्से में आई तीस हजार की रकम को अपनी पत्नी के बैंक खाते में जमा कर दिया था। वीरसेन शर्मा पर भी लूट और हत्या के दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। वह 2017 में मोदी नगर क्षेत्र में दूध की डेरी कर्मचारी से हुई साडे सात लाख की लूट में भी शामिल रहा था और वर्तमान में वह मोदीनगर का टॉप टेन बदमाश है। वीर सेन ने अपने साथी मुकेश के साथ ही 19 मार्च 2020 को थाना मसूरी क्षेत्र में लूट की एक  घटना को भी अंजाम दिया था। पुलिस ने वीर सेन शर्मा और आकिल को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन अभी मुकेश फरार है । इस घटना में ब्लूटूथ एक तमंचा 315 बोर लूट का एक बैग ,लूट के कैश में से 13हजार वीर सेन से तथा 24800 रूपये आकिल से बरामद किए गए हैं।





Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment