राजस्व चोरी के चर्चित मामले में दो बिल्डरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज Case filed against two builders in the famous case of revenue theft





                                               सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 
साहिबाबाद । थाना साहिबाबाद क्षेत्र की शहीद नगर कॉलोनी में सौ रूपयों के स्टांप पेपर पर लाखों रुपए की संपत्ति खरीदने और बेचने के चर्चित मामले में दो बिल्डरों के खिलाफ सब रजिस्ट्रार तृतीय गाजियाबाद द्वारा धोखाधड़ी एवं राजस्व चोरी करने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। 
    
जानकारी के अनुसार राजस्व चोरी किए जाने का भंडाफोड़ राजेंद्र नगर निवासी आरटीआई एवं मानवाधिकार कार्यकर्ता राजीव कुमार शर्मा ने किया था। उन्होंने महानिरीक्षक स्टाम्प उत्तर प्रदेश सरकार को शिकायती पत्र लिखकर बताया था कि शहीद नगर में कुछ बिल्डर गिरोह बनाकर सरकारी राजस्व की चोरी कर रहे हैं। वे राजस्व चोरी करने के लिए लाखों रुपए की संपत्ति खरीदने और बेचने के मामले में केवल सौ रूपयों के स्टांप पेपर की का प्रयोग करते हैं। इससे सरकार को करोड़ों के राजस्व की हानि हो रही है। 
    
इस मामले की जांच जिला प्रशासन एवं सब रजिस्ट्रार कार्यालय गाजियाबाद की ओर से की गई तथा जांच में आरोप सही पाए गए। इस मामले में उपनिबंधक तृतीय गाजियाबाद सुरेश चंद्र मौर्य ने लिखित तहरीर में बताया कि बार-बार के आग्रह करने के बावजूद आरोपी हाजी मुस्तकीम पुत्र अल्ला दिया निवासी सी 861 शहीद नगर एवं कुंवर पाल शर्मा पुत्र स्वर्गीय कालूराम निवासी 785 शहीद नगर ने संबंधित संपत्ति के कोई कागजात उन्हें उपलब्ध नहीं कराए ना ही कोई सहयोग किया। लिहाजा उनकी ओर से थाना साहिबाबाद में उपरोक्त दोनों लोगों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धाराओं 420 व 120 बी तथा स्टांप अधिनियम के अनुच्छेद 64 के अंतर्गत रिपोर्ट लिखाई गई है।
       
इस संबंध में मानवाधिकार कार्यकर्ता राजीव कुमार शर्मा ने आरोप लगाया कि  थाना साहिबाबाद पुलिस ने  गिरोह बंद अधिनियम  एवं  भू माफिया की धारा  रिपोर्ट में दर्ज नहीं की है  तथा थाना  पुलिस ने अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की है।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment