पाकिस्तान को बेनकाब करने की मुहिम तेज, 25 देशों के राजनयिकों से मिले गोखले Gokhale meets diplomats from 25 countries, expedition to expose Pakistan



नयी दिल्ली ।  पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की मुहिम तेज करते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने आज यहाँ चीन सहित संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पाँच स्थायी सदस्यों तथा 20 अन्य देशों के राजदूतों से बातचीत की। 

श्री गोखले ने 25 देशों के भारत स्थित राजनयिकों से मुलाकात की और उन्हें पुलवामा आतंकवादी हमले में पाकिस्तान की भूमिका के बारे में बताया। सूत्रों ने बताया “सभी राजनयिकों को हमले में पाकिस्तान स्थित तथा उसके द्वारा समर्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की भूमिका के बारे में जानकारी दी गयी।”
सूत्रों का कहना है कि श्री गोखले ने उनसे स्पष्ट शब्दों में कहा कि पाकिस्तान को ‘उसकी धरती से काम करने वाले आतंकवादी समूहों को हर तरह का सहयोग और वित्तीय मदद तत्काल बंद करनी चाहिये।’ उन्होंने राजनयिकों को बताया कि पाकिस्तान आतंकवाद का इस्तेमाल उसकी राष्ट्रीय नीति के हथियार के तौर पर कर रहा है। 

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में सुबह केन्द्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति की बैठक में पाकिस्तान को कूटनीतिक स्तर पर घेरने तथा अंतर्राष्ट्रीय मंच पर अलग-थलग करने का निर्णय लिया गया। साथ ही पाकिस्तान से सर्वाधिक वरीयता प्राप्त राष्ट्र का दर्जा भी छीन लिया गया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बैठक के निर्णयों के बारे में जानकारी दी थी। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment