नाम से नहीं काम से तय होता है नेतृत्व, सबका साथ, सबका विकास सरकार का मंत्र: मोदी Not by name, work is decided by leadership, with everyone, the mantra of development of everyone: Modi



नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ को पार्टी की ताकत का मंत्र करार देते हुए गुरुवार को कहा कि भाजपा में नाम से नहीं बल्कि काम से नेतृत्व तय होता है, यहां कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है और सबका साथ, सबका विकास ही सरकार का मंत्र है। प्रधानमंत्री ने कुछ प्रदेशों के बूथ स्तर के भाजपा कार्यकर्ताओं से नरेन्द्र मोदी एप के माध्यम से संवाद में कहा, ‘‘मेरा संदेश साफ है कि अब तक की विजय यात्रा ने यह सिद्ध कर दिया है कि हमारी ताकत का मंत्र है ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’।’’

कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए मोदी ने कहा, ‘‘भाजपा में नाम से नहीं काम से नेतृत्व तय होता है। बूथ स्तर के कार्यकर्ता को संगठन के नेतृत्व की जिम्मेदारी को सौंपने का काम सिर्फ भाजपा ही कर सकती है फिर चाहे वह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हों या अलग अलग राज्यों में हमारे मुख्यमंत्री।उन्होंने कहा कि इन सभी ने बूथ स्तर से कार्य करना शुरू किया है। यहाँ कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है । उन्होंने कहा, ‘‘आज जहाँ मैं हूँ कल कोई और होगा और यह भारतीय जनता पार्टी में लोकतंत्र के कारण ही है। ’’मोदी ने कहा, ‘‘पदभार व्यवस्था है और कार्यभार ज़िम्मेवारी। पदभार बदल सकता है लेकिन माँ भारती को समर्पित हम कार्यकताओं को कार्यभार से कभी मुक्ति नहीं मिल सकती।’’

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कई बार तो उन्हें कांग्रेस के अनेक पुराने कार्यकर्ताओं पर, जिन्होंने संघर्ष किया है, ज़मीन पर काम किया है, उनके प्रति संवेदना का भाव आता है।गांधी परिवार के परोक्ष संदर्भ में मोदी ने कहा कि उनका (कांग्रेस कार्यकर्ताओं) संघर्ष, उनका सामर्थ्य सिर्फ एक परिवार के काम ही आ रहा है। एक से एक समर्थ लोग परिवार के विकास की भेंट चढ़ गए हैं।अपनी सरकार के कामकाज का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ भाजपा सरकार सिर्फ नारे गढ़ती नहीं उन्हें धरातल की वास्तविकता तक ले जाती है। ‘सबका साथ-सबका विकास’ हमारे लिए सिर्फ नारा नहीं बल्कि एक मंत्र की तरह पवित्र लक्ष्य है।’

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार के काम में अगड़ों या पिछड़ों का सवाल नहीं होता है और सबका साथ, सबका विकास के मंत्र के आधार पर काम होता है।मोदी ने कहा कि सौभाग्य योजना से बिजली रामेश्वर के घर में भी पहुंच रही है तो रहमान, रतिंदर और रॉबर्ट के घर का अंधेरा भी छट रहा है । उज्जवला योजना के तहत जो 5 करोड़ से अधिक गरीब बहनों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है तो उसमें सरिता भी है, सबीना भी और कोई सोफिया भी है। उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के तहत 13 करोड़ से अधिक लोन पाने वाले भाई-बहन हर जाति, पंथ और संप्रदाय से हैं।प्रधानमत्री ने कहा कि देश के नए बन रहे आधुनिक एक्सप्रेस वे, साफ-स्वच्छ रेलवे स्टेशनों और अनेक शहरों में बन रही मेट्रो में कोई जाति या पंथ पूछकर एंट्री नहीं होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘ कार्यकर्ताओं की मेहनत, सामर्थ्य, पुरुषार्थ और संकल्प के कारण ही आज हम इस मुकाम पर पहुंचे हैं।’’मोदी ने कहा, ‘‘जड़ जितनी मजबूत होती है पेड़ उतना ही फलदाई और ताकतवर होता है। मेरे लिए यह सौभाग्य का विषय है कि आज मुझे भारतीय जनता पार्टी की जड़ को सींचकर उसे एक घने वृक्ष रुपी पार्टी बनाने वाले ऐसे अनेक कार्यकर्ताओं से बात करने का मौका मिला।’





Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment