कार्यकर्ता महाकुंभ में मोदी-शाह ने कांग्रेस पर किए तीखे वार Modi-Shah is the sharpest Congress party in the Mahakumbh



भोपाल,  (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज भोपाल में आयोजित प्रदेश स्तरीय कार्यकर्ता महाकुंभ में चुनावी शंखनाद करते हुए मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर तीखे वार किए।
श्री मोदी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि देश में गठबंधन में असफल रही पार्टी अब भारत के 'बाहर' गठबंधन खोज रही है। उन्होंने जनता से उन्हें एक मौका और देने की अपील की और दीनदयाल उपाध्याय के साथ महात्मा गांधी और राममनोहर लोहिया के रास्ते पर राजनीति करने की बात कही। भाजपा अध्यक्ष श्री शाह ने आगामी चुनाव में कार्यकर्ताओं को सीना चौड़ा करके जाने की सलाह दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला।
श्री मोदी ने जंबूरी मैदान में आयोजित महाकुंभ में अपने लगभग 40 मिनट के संबोधन में कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस हिंदुस्तान में गठबंधन में सफल नहीं हो रही, इसलिए बाहर खोज रही है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि अब बाहर के देश तय करेंगे कि भारत का प्रधानमंत्री कौन हो। 
प्रधानमंत्री ने एक बार फिर स्वयं को 'चाय वाला' की संज्ञा देते हुए कहा कि कांग्रेस को एक चाय वाले का प्रधानमंत्री बनना और 'गरीब मां के बेटे' शिवराज सिंह चौहान और योगी आदित्यनाथ का कुर्सी पर बैठना मंजूर नहीं है। कांग्रेस का मानना है कि कुर्सी पर केवल एक खानदान के लोगों को बैठने का हक है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस पराजय के डर से गठबंधन कर रही है, वो देश की भलाई के लिए नहीं है। अहंकारी कांग्रेस अब छोटे-छोटे दलों के पैर पकड़ रही है।
श्री मोदी ने जनता से उन्हें एक बार फिर सेवा का मौका देने की अपील करते हुए कहा कि अब प्रगति की नई छलांग लगाने का अवसर है। केंद्र में उनकी सरकार और प्रदेश में श्री चौहान की सरकार ने प्रगति प्रदान की है। आने वाले पांच साल के लिए उसे आगे बढ़ाने के लिए हमें सेवा का मौका चाहिए।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की कोई भी पार्टी हो तीन महापुरुषों गांधी, लोहिया और दीनदयाल के विचारों पर ही राजनीति करती है। इनके विचारों के बिना आप नहीं चल सकते। राष्ट्र के विकास और कल्याण के लिए उनके विचारों से मार्गदर्शन मिलता है। उन्होंने दूसरे दलों को नसीहत देते हुए कहा कि भाजपा को तीनों मंजूर हैं, क्योंकि उनकी पार्टी समन्वय में विश्वास रखती है। 
श्री मोदी ने लाखों कार्यकर्ताओं के बीच चुनावी अभियान का शंखनाद करते हुए उन्हें 'मेरा बूथ-सबसे मजबूत' का मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि वोटबैंक की राजनीति ने समाज को दीमक की तरह तबाह कर दिया है। इससे देश को मुक्त कराना भाजपा की जिम्मेदारी है।
भाजपा अध्यक्ष श्री शाह ने कहा कि अब चुनाव का समय है, इसलिए कार्यकर्ता सीना चौड़ा कर आम लोगों के बीच जाएं। प्रधानमंत्री श्री मोदी और मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ऐसा कोई काम नहीं किया, जिससे कार्यकर्ताओं को सिर झुकाना पड़े। 'नमो एप' का जिक्र करते हुए महाकुंभ में आए कार्यकर्ताओं से उन्होंने आह्वान किया कि वे इसकाे अपने स्मार्ट फोन पर अवश्य डाउनलोड करें और हर कार्यकर्ता आगे तीन लोगों को इसे डाउनलोड कराए।
श्री शाह ने मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर वोट बैंक की राजनीति के लिए राष्ट्रहितों को दरकिनार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह चुनावों के समय लोगों को भ्रमित करने का कार्य करती है। ऐसा ही वह 'नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस' (एनआरसी) के मामले में कर रही है। उन्होंने बताया कि एनआरसी लागू करने के बाद 40 लाख घुसपैठियों की पहचान हुयी है। अब इनके खिलाफ विधिवत कार्रवाई होगी और इनका नाम वोटर लिस्ट से भी हटाया जाएगा।
श्री शाह ने दोहराया कि एनआरसी की प्रक्रिया किसी भी कीमत पर रुकने वाली नहीं है।
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उन्हें 'घोषणा मशीन' बताने पर पलटवार करते हुए कहा कि वे 'फन मशीन' हैं। उन्होंने देश को 'मनोरंजन' और राजनीति को 'तमाशा' बना दिया है। श्री गांधी कुछ दिन पहले राजधानी भोपाल आए थे और उन्होंने आंख से वही हरकत यहां भी की, जो उन्होंने कुछ समय पहले संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाने के बाद की थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे समझते थे कि श्री गांधी अब परिपक्व हो गए होंगे, लेकिन इन हरकतों से साफ हो गया है कि ऐसा नहीं हुआ।
श्री चौहान ने श्री गांधी के 'शिव भक्त' के रूप में प्रचारित करने पर कहा कि वे मान सरोवर की यात्रा से आए और अपनी फोटो सोशल मीडिया में वायरल कर रहे हैं। श्री गांधी बार बार विदेश जाते हैं और वह वहां क्या करते हैं, इसकी भी फोटो वायरल की जाना चाहिए।
श्री चौहान ने कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं पर भी हमला करते हुए कहा कि वे सभी सत्ता नहीं होने पर बौखलाए हुए हैं और कमर के नीचे वार करने से नहीं चूक रहे हैं।
महाकुंभ में संगठन महामंत्री रामलाल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह सहित केंद और राज्य के वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।
वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने भाजपा के कार्यकर्ता महाकुंभ को 'फ्लॉप शो' करार दिया है। उन्होंने यहां जारी बयान में कहा कि भाजपा के कार्यक्रम में शासकीय मशीनरी का दुरुपयोग किया गया। इसके बावजूद इसमें दावे के मुताबिक भीड़ नहीं जुट पाई। जनता को उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री महंगाई कम करने के लिए कोई घोषणा करेंगे, लेकिन उन्हें निराशा हाथ लगी।
श्री कमलनाथ ने कहा कि सभा में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की मनमोहन सिंह सरकार पर असत्य आरोप लगाए गए। संप्रग सरकार ने बिना भेदभाव के भाजपा की प्रदेश सरकारों को सर्वाधिक राशि दी। उन्होंने कहा कि पूरा कार्यकर्ता सम्मेलन कांग्रेस कोसो सम्मेलन बन कर रह गया और प्रधानमंत्री का भाषण विपक्ष के नेता की तरह था।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment