जेटली की अनुमति से माल्या लंदन गए, वित्त मंत्री बोल रहे झूठ: राहुल गांधी Mallya goes to London with Jaitley's permission, says Finance Minister Lying: Rahul Gandhi



नयी दिल्ली। कांग्रेस ने विजय माल्या और अरुण जेटली की मुलाकात को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए सवाल खड़े किए। राहुल गांधी ने कहा कि राफेल मुद्दे को लेकर अरुण जेटली लिखते हैं लेकिन विजय माल्या को लेकर उन्होंने कुछ नहीं लिखा। अरुण जेटली ने जो 2 मिनट तक कहा वो झूठ है और हम आज इसका सच लेकर सामने आए हैं। पीएल पुनिया जी हमारे साथ हैं और वो बताएं कि क्या देखा था उन्होंने।

पुनिया ने बताया कि पहली मार्च को मैं संसद के केंद्रीय कक्ष में बैठा हुआ था तभी मैंने देखा दोनों कोने में खड़े होकर बातें कर रहे थे। 5-7 मिनट तक दोनों बातें करते रहे। उन्होंने आगे कहा कि जब तीन तारीख को मीडिया में छपा कि माल्या लंदन चले गए। उस समय देखते ही मेरी प्रतिक्रिया थी कि वो तो दो दिन पहले जेटली से मिले थे और मैंने तमाम चैनलों में इसका जिक्र भी किया था। 

पुनिया बताते हैं कि जेटली अभी ढाई साल तक चुप्पी साधे रहे और संसद में बहस भी हुई मगर उन्होंने इसका जिक्र भी नहीं किया। मेरी खुली तौर पर चुनौती है सेंट्रल हॉल में सीसीटीवी लगा हुआ है देख लें...अगर मैं झूठ बोल रहा हूं तो राजनीति छोड़ दूंगा। उन्होंने कहा कि माल्या उस दिन संसद आए थे इस बात का पूरा रिकॉर्ड है और उन्होंने रजिस्टर में दस्तखत भी किया था।

राहुल गांधी ने अरुण जेटली पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि पहला सवाल है कि वित्त मंत्री भगौड़े से बात करते हैं? और उन्होंने इसकी जानकारी न तो सीबीआई को दी, न ईडी को और न ही पुलिस को। यह साफ तौर पर सबके सामने है कि माल्या लंदन जाने से पहले वित्तमंत्री से मिलकर गए थे और आपने झूठ बोला है। कोई न कोई डील हुई है और उन्हें यह बता देना चाहिए और इस्तीफा दे देना चाहिए।

इसी के साथ राहुल गांधी ने कहा कि सीबीआई चलाने वाले ने विजय माल्या की मदद की और अब अरुण जेटली झूठ बोल रहे हैं। यह साफ है कि विजय माल्या ने जेटली से अनुमति ली और लंदन गए। सरकार लगातार झूठ बोल रही है पहले राफेल को लेकर और अब माल्या को लेकर।





Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment