अंतर्राज्यीय ठग गिरोह का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार Interstate thug gang busted, three arrested


                                                   सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

                                     
कार के साथ ठगी के आरोपी। 


साहिबाबाद । थाना इंदिरापुरम एवं साइबर सेल की टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए एक अंतरराज्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया है। जिसे पति-पत्नी चलाते थे और वह पॉलिसी मेच्योरिटी के नाम पर लोगों को ठगते थे। पुलिस ने फिलहाल पति पत्नी और उनके एक साथी को गिरफ्तार कर ठगी के पैसों से खरीदी हुई है एक लग्जरी कार, 4 मोबाइल,डाटा सीट तथा एक बैंक पासबुक बरामद की है। 

सीओ इंदिरापुरम ने बताया कि थाना इंदिरापुरम की पुलिस और साइबर सेल की टीम ने एक सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए एक ठग दंपति और उनके एक अन्य साथी को गिरफ्तार किया है। यह गिरोह पिछले 4 साल से दिल्ली लक्ष्मी नगर में ऑफिस चलाकर ठगी कर रहा था। इस गिरोह के तीन सदस्य फिलहाल मुखबिर की सूचना पर कनावनी नहर के पास से पुलिस ने गिरफ्तार किए हैं। इस गिरोह में धीरज तंवर पुत्र ईश्वर सिंह तंवर निवासी एलजीएफ-4 टावर पाम वैली सोसायटी थाना बिसरख गौतम बुद्ध नगर । यह ग्रेजुएट है तथा लोगों को कॉल करने का काम करता था। इस ठगी के ऑफिस को चलाने वाला अक्षय पुत्र आशोक कुमार निवासी शिव मंदिर के पास गली नंबर दो बाबरपुर शाहदरा दिल्ली है। यह 12वीं पास है तथा इसकी पत्नी हुमा खान है जो नैट बैंकिंग के अलावा बैंक  पैसे निकालने आदि इंटरनेट का काम करती है।
       
यह गिरोह लोगों को फर्जी आईडी से लिए गए सिम से कॉल कर उनकी पॉलिसी मैच्योर  कराने के नाम पर ठगते थे और इस काम के लिए वे अपने आपको एचडीएफसी, आईआरडीए अथवा वित्त मंत्रालय का अधिकारी बताते थे। अपने जाल में फंसे व्यक्ति को वे उससे काम कराने की एवज में पैसा  अपने फर्जी बैंक खातों में ट्रांसफर करा लेते थे तथा इस ठगी के पैसों को चार हिस्सों में बराबर बराबर बांट लेते थे। सभी गिरफ्तार और फरार व्यक्ति नोएडा में एक प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनी में नौकरी करते थे और वहां से काम छोड़ने के बाद ठगी का धंधा शुरू कर दिया। इन्होंने इस ठगी के धंधे के लिए लक्ष्मी नगर दिल्ली में एक ऑफिस खोल रखा था तथा इनका कार्य क्षेत्र संपूर्ण भारत था। इस गिरोह से पुलिस ने ठगी के पैसों से खरीदी हुई करीब 23 लाख रुपए कीमत की हुंडई एएल केसर कार तथा 125 डाटा शीट 4 मोबाइल फोन एक बैंक पासबुक व 97हजार रुपये बरामद किए हैं। 
      
इस गिरोह को पकड़ने वाली टीम में साइबर सेल के प्रभारी एसआई सुमित कुमार, एसआई विशाल सिंह थाना इंदिरापुरम ,एसआई अशोक कुमार साइबर सेल के अलावा अन्य लोग थे। 





Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment