अवैध निर्माण के लिए शपथ पत्र देकर रिश्वत लेने के मामले में रिपोर्ट दर्ज Report filed for taking bribe by giving affidavit for illegal construction




                                                       सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 



साहिबाबाद ।  थाना साहिबाबाद में जीडीए के अवर अभियंता ने 2 लोगों के खिलाफ जीडीए द्वारा की गई सीलिंग की कार्रवाई के बाद सील तोड़ कर अवैध निर्माण करने वाले 2 लोगों के खिलाफ थाना साहिबाबाद में रिपोर्ट दर्ज कराई है। लेकिन भूखंड के दो मालिकों दो बख्श दिया गया।
           
जानकारी के अनुसारविक्रम एंकलेव में हो रहे एक अवैध निर्माण के लिए रिश्वत लेने से जुड़े एक शपथ पत्र देने के मामले में यह अवैध निर्माण चर्चा में आया था। जिसमें एक बिचैलिए ने जीडीए अधिकारियों के नाम पर छह लाख की रिश्वत का शपथ पत्र दिया था। जानकारों का कहना है कि इस  शपथ पत्र के सोशल मीडिया में आने के बाद  यह अवैध निर्माण सुर्खियों में आया और अख्सबसरों की खबर बना। इसके बाद जीडीए अधिकारियों को  अपनी साख बचाने के लिए कार्रवाई करनी पड़ी। इस मामले में जीडीए के अवर अभियंता शिवओम ने 2 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। इस मामले में बिल्डर जावेद एवम भूखण्ड स्वामी आरसी शर्मा के खिलाफ भादवि की धारा 447व 448 के तहत एफआईआर दर्ज करायी गयी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि जेई ने एफआईआर दर्ज करवाने  में भी  खेल कर दिया। भूखण्ड स्वामी के तौर पर सिर्फ एक व्यक्ति आरसी शर्मा का लिखा है जबकि एग्रीमेंट के शपथ पत्र में भूखण्ड के 3 स्वामी हैं। जिनके नाम, पिता का नाम और पता भी साफ- साफ लिखे हुए है। जेई शिवओम त्यागी ने 2 भूखण्ड स्वामियों सन्तोष भट्ट और उसके भाई को रिपोर्ट में नामजद नहीं किया है। आखिर उन्हें क्यों बचाया जा रहा है।

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment