अभिनंदन पर खुलासे के बाद नड्डा का राहुल पर हमला, कहा- भारत की किसी चीज पर भरोसा नहीं तो पाकिस्तान से खुद सुन लें After the revelations on the greetings,


                                                            शांतिदूत न्यूज नेटवर्क 



नयी दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सशस्त्र बलों का ‘‘मजाक’’ उड़ाने के लिए बृहस्पतिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला बोला और एक कथित वीडियो का हवाला देते हुए उन पर निशाना साधा जिसमें एक पाकिस्तानी सांसद कह रहे हैं कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को इस्लामाबाद ने इसलिए रिहा किया क्योंकि उसे भारत के हमले का डर सता रहा था। नड्डा द्वारा ट्वीट किए गए वीडियो में एक पाकिस्तान सांसद यह कहते सुने जा रहे हैं कि पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल बाजवा की उपस्थिति में हुई एक बैठक में विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि अभिनंदन को रिहा नहीं किया गया तो ‘‘हिन्दुस्तान नौ बजे रात को पाकिस्तान पर हमला कर रहा है’’। वर्ष 2019 में भारत द्वारा बालाकोट में किए गए हवाई हमले के बाद एक हवाई युद्ध के क्रम में अभिनंदन पाकिस्तानी सीमा क्षेत्र में प्रवेश कर गए थे, जहां उन्हें हिरासत में ले लिया गया था। वीडियो में पाकिस्तानी सांसद कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि अभिनंदन की क्या बात करते हैं। मुझे याद है शाह महमूद कुरैशी साहब उस मीटिंग में थे। 

प्रधानमंत्री साहब ने उसमें आने से इंकार कर दिया, चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ तशरीफ लाए। पैर कांप रहे थे, पसीने माथे पर थे और हमसे फॉरेन मिनिस्टर शाह महमूद साहब ने कहा कि खुदा के वास्ते अब इसको वापिस जाने दें क्योंकि नौ बजे रात को हिन्दुस्तान पाकिस्तान पर हमला कर रहा है। राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए नड्डा ने वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस के युवराज ना तो हमारी सेना, ना हमारी सरकार और ना ही हमारे नागरिकों पर विश्वास करते हैं। उनके लिए उनके ‘सबसे विश्वसनीय देश’ पाकिस्तान की तरफ से पेश है। उम्मीद है कि अब उन्हें समझ आएगा।’’ कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस ने अपना पूरा चुनावी अभियान हमारे सशस्त्र बलों को कमजोर करने के इर्दगिर्द रखा। उसने सशस्त्र बलों का मजाक उड़ाया, उनके शौर्य पर सवाल उठाया और हर वह दांव चला ताकि भारत को राफेल विमान न मिल सके। देश के लोगों ने ऐसी राजनीति को नकार दिया और कांग्रेस को सजा दी।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment