केन्द्रीय पुलिस बलों की कैंटीनों मेंं केवल स्वदेशी उत्पादों की बिक्री Sale of indigenous products only in canteens of central police forces





                                                           शांतिदूत न्यूज नेटवक

नयी दिल्ली । देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी उत्पादों को बढावा देने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान के मद्देनजर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि केन्द्रीय पुलिस बलों की सभी कैंटीनों और स्टोरों पर अब केवल स्वदेशी उत्पादों की ही बिक्री की जायेगी।

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज एक टि्वट कर इस निर्णय की जानकारी दी। उन्होंने टि्वट के शुरू में इसे एक शीर्षक भी दिया है , ‘एक संकल्प, एक लक्ष्य...आत्मनिर्भर भारत ’। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री ने देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी उत्पादों का उपयोग करने की अपील की है इसे देखते हुए गृह मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है।

टि्वट में उन्होंने लिखा है , “ कल माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने और लोकल प्रोडक्ट्स (भारत में बने उत्पाद) उपयोग करने की एक अपील की जो निश्चित रूप से आने वाले समय में भारत को विश्व का नेतृत्व करने का मार्ग प्रशस्त करेगी। इसी दिशा में आज गृह मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है कि सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की कैंटीनों और स्टोरों पर अब सिर्फ स्वदेशी उत्पादों की ही बिक्री होगी। एक जून 2020 से देशभर की सभी सीएपीएफ कैंटीनों पर यह लागू होगा, जिसकी कुल खरीद लगभग 2800 करोड़ रूपए के करीब है। इससे लगभग 10 लाख पुलिसकर्मियों के 50 लाख परिजन स्वदेशी उत्पादो का उपयोग करेंगे। ”

उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि वे भी स्वदेशी उत्पादों का ही इस्तेमाल करें। उन्होंने लिखा है, “ मैं देश की जनता से भी अपील करता हूं कि आप देश में बने उत्पादों को अधिक से अधिक उपयोग में लायें व अन्य लोगों को भी इसके प्रति प्रोत्साहित करें। यह पीछे रहने का समय नहीं बल्कि आपदा को अवसर में बदलने का समय है। हर भारतीय अगर भारत में बने उत्पादों (स्वदेशी) का उपयोग करने का संकल्प ले तो पांच वर्षों में देश का लोकतंत्र आत्मनिर्भर बन सकता है। आइए हम सब स्वदेशी उत्पादों का उपयोग कर आत्मनिर्भर भारत की इस यात्रा में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के हाथ मजबूत करें।”

उल्लेखनीय है कि श्री मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में देश को आत्म निर्भर बनाने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत कुल 20 लाख करोड़ रूपये के पैकेज का ऐलान किया है।

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment