देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 56 हजार के पार Number of corona infected in the country crosses 56 thousand





                                                            शांतिदूत न्यूज नेटवर्क 

नयी दिल्ली । देश में कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के 3390 नये मामले आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 56 हजार के पार हो गयी है जबकि इस दौरान 103 लोगों की मौत होने से मृतकों की तादाद 1886 हो गयी है जबकि कोरोना मरीजों के दोगुना होने की अवधि घटकर 10.2 दिन रह गयी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) अब देश के 21 अस्पतालों में कनवलसेंट प्लाज्मा की सुरक्षा और प्रभाविताें की जांच के लिए क्लीनिकल ट्रायल करेगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में कुल 1273 लोग ठीक हुए हैं जिससे मरीजों के ठीक होने की दर 29़ 36 प्रतिशत हो गई है। महाराष्ट्र में आज तड़के एक दर्दनाक हादसे में औरंगाबाद के पास बदनापुर करमाड रेलखंड में एक मालगाड़ी से कट कर 16 मजदूरों की मौत हो गयी। इसी बीच, भारत में कोरोना वायरस के अधिकतर मामले महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात और पंजाब से सामने आये हैं।

महाराष्ट्र में 1216 नये मामले सामने आये हैं और 43 लोगों की मौत हो गयी है जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 17,974 हो चुकी है वहीं कुल 694 मौतें सामने आयी हैं। महाराष्ट्र का दौरा करने वाली केंद्रीय टीम ने अपनी अलगाव सुविधाओं का विस्तार करने और समुदाय के प्रसार को रोकने के लिए धारावी के संस्थागत क्षेत्रों में संभावित संक्रमित लोगों को क्वारंटीन करने की सलाह दी है।

तमिलनाडु में 580 नये मामले सामने आये हैं और दो लोगों की मौत हो गयी है जिससे कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5409 हो चुकी है और मरने वालों की संख्या बढ़कर 37 हो गयी है।

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 448 नये मामले आये हैं और एक की मौत हुई है जिससे कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5980 हो गयी है और कुल 66 मौतें हुई हैं। गुजरात में 387 नये मामले सामने आये हैं और इस दौरान 29 मौतें हुई हैं जिससे कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7012 हो गयी है और 425 मौतें सामने आयी हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक कोरोना संक्रमित और मृत्यु दर्ज की है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में जैसे-जैसे वृद्धि आयेगी, नागरिकों को वायरस के साथ रहना सीखना होगास्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि देश में 216 जिले ऐसे हैं जहां कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है और 42 जिलों में 28 दिनों, 29 जिलों में 21 दिनों से कोरोना वायरस का एक भी मामला नहीं देखा गया है।

एम्स दिल्ली के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर श्री अग्रवाल ने कहा, “अगर लोग दिशा-निर्देश का पालने करेंगे तो हो सकता है कि कोरोना प्रसार का ग्राफ पहले की तरह ही ‘फ्लेटन’रहे।
गौरतलब है कि डॉ गुलेरिया ने देश में बीमारी का चरम जून या जुलाई तक पहुंचने की आशंका जतायी है।

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में हुए रेल हादसे का जिक्र करते हुए श्री अग्रवाल ने कहा, “ प्रवासी श्रमिक अपने गृह राज्यों में लौट रहे हैं, इसलिए यह जरूरी है कि संक्रमण की रोकथाम और प्रबंधन के बारे में सभी दिशा-निर्देशों और सावधानियों का पालन किया जाए।”

रेलवे ने कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने के अभियान में पहले चरण में अपने 5231 रेल कोचों को कोविड देखभाल केंद्रों के रूप में बदल दिया है और इन्हें देश के 215 रेलवे स्टेशनों पर रखा जाएगा तथा इनमें कोरोना के बहुत हल्के एवं मामूली लक्षण वाले मरीजों को रखा जाएगा।


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment