मालगाड़ी से कट कर 16 मजदूरों की मौत, मृतकों के वारिसों को पांच-पांच लाख का मुआवजा 16 workers killed by goods train






औरंगाबाद / नयी दिल्ली । महाराष्ट्र में शुक्रवार तड़के एक दर्दनाक हादसे में औरंगाबाद के पास बदनापुर-करमाड रेलखंड में मालगाड़ी से कट कर 16 मजदूरों की मौत हो गयी। महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश की सरकार ने हादसे में मृत लोगों के वारिसों को पांच-पांच लाख रूपये का मुआवजा दिये जाने की घोषणा की है।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एक वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा , कांग्रेस नेता राहुल गांधी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता तथा अन्य ने इस हृदयविदारक घटना पर गहरा दुख जताया है।

रेलवे सूत्रों ने बताया कि सुबह पांच बजकर 22 मिनट पर चेर्लापल्ली को जा रही एक मालगाड़ी के लोकोपायलट ने सूचित किया कि नांदेड़ मंडल के अंतर्गत बदनापुर से करमाड के बीच किलोमीटर संख्या 139/4 पर 15 से 20 लाेग ट्रैक पर सो रहे थे जिनमें से ट्रेन के नीचे आकर 15 लोगों की मौत हो गयी है। हादसे में घायल एक अन्य ने बाद में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

सूत्रों के मुताबिक हादसे के शिकार लोग मध्यप्रदेश के उमरिया और शहडोल जिले के मजदूर थे , जो जालना में एसआरजी कंपनी में काम करते थे। ये लोग कल शाम सात बजे पैदल ही जालना से निकले थे। वे बदनापुर तक सड़क मार्ग पर चलते हुए आये थे और बाद में औरंगाबाद की ओर रेलवे ट्रैक के किनारे चलने लगे। करीब 36 किलोमीटर तक चलने के बाद वे बहुत थक गये और ट्रैक पर कुछ देर विश्राम करने के लिए बैठ गये। कुछ देर बाद उन्हें गहरी नींद आ गयी।

उन्होंने बताया कि सुबह पांच बजे के बाद जब चेर्लापल्ली की ओर जा रही मालगाड़ी वहां से गुजरी तो ट्रैक पर लेटे 15 मजदूरों की कट कर मौत हो गयी जबकि एक मजदूर बुरी तरह से जख्मी हो गया। घायल मजदूर को औरंगाबाद जिले के घाटी स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार के उसकी मौत हो गयी। पटरी से दूर लेटे तीनों लोग जीवित हैं। घटना की जानकारी मिलते ही रेल सुरक्षा बल के उप सुरक्षा आयुक्त, स्थानीय पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गये।

रेल मंत्री ने इस घटना की उच्चस्तरीय जांच तथा घायल मजदूर के उपचार के हरसंभव जरूरत का ध्यान रखने के आदेश दिये हैं। उन्होंने इस हादसे पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं की शांति की प्रार्थना की है।
श्री चौहान ने हादसे की सूचना मिलते ही रेल मंत्री से फोन पर चर्चा की और मृतक मजदूरों के परिवार को 5-5 लाख रुपए देने की घोषणा की है। सूत्रों के अनुसार मध्य प्रदेश सरकार औरंगाबाद एक विशेष विमान और टीम भेज रही है जो घायल मजदूर के उपचार और मृतक मजदूरों के पार्थिव शरीर को उनके घर पहुंचाने समुचित व्यवस्था करेगी।

महाराष्ट्र सरकार ने शुक्रवार को औरंगाबाद के समीप मालगाड़ी से कटकर मरे सभी मजदूरों के परिजनों को पांच-पांच लाख रूपये का मुआवजा दिये जाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हादसे पर गहरा दुख व्यक्त किया और कहा कि राज्य सरकार घायल हुए लोगों का पूरा चिकित्सकीय खर्च वहन करेगी।

Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment