पुलिस की हवालात में बंदी की जगह बाट तराजू Weighing scales in place of detainees in police custody




                         पुलिस चैकी शालीमार गार्डन का हवालात में बंद बाट तराजू।

                                                           सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

साहिबाबाद ।  थाना साहिबाबाद क्षेत्र की पुलिस चैकी शालीमार गार्डन क्षेत्र में आजकल सब्जी बेचने वालों की बाढ़ सी आई हुई है। आरोप है कि सब्जी विक्रेता लाॅकडाउन के नियमों का  पालन नहीं कर रहे  इसलिए  उनकी तराजू और वाट  पुलिस  छीन कर  रख रही है। 
      
जानकारी के अनुसार  जब से  देश में  कोरोना वायरस की वजह से  लाॅकडाउन लगा है  तब से  हर तीसरे आदमी ने  अपने पुराने धंधे छोड़कर  सब्जी बेचने का काम शुरू कर दिया है। इस काम को करने में कोई बुराई भी नहीं है। गरीब आदमी  कमाकर खाए  चाहे वह सब्जी बेचे  या दूध । लेकिन पुलिस के सामने समस्या यह है कि एक ही कॉलोनी में सब्जी बेचने वालों की बाढ़़ आ जाए और वे लाॅकडाउन के नियम भी न मानें तो क्या किया जाय? साथ ही एक दूसरे आदमी से दूरी बनाने का  नियम भी भंग हो रहा हो  तथा सब्जी बेचने वाले  मुंह पर मास्क आदि नहीं लगा रहे हो  तो उससे कोरोना वायरस  फैलने  का संशय पैदा होता है। पुलिस पर  शासनादेश  लागू करने का दायित्व है और पुलिस पर लाॅकडाउन लागू नहीं करा पाने के आरोप लगते हैं।
        
ऐसी सूरत में कोरोना से बचाव के लिये पुलिस ने सीधा  रास्ता निकाला और नियम तोड़ने  वाले उन सब्जी विक्रेताओं के  तराजू और बाट  छीन कर अपने पास रख लिए हैं। इसके अलावा यह तराजू और बाटों पर मापतोल विभाग  द्वारा  लगाई गई मोहर  भी वैध नहीं निकली है ।
      
पुलिस का कहना है जो नियम तोड़ेगा और मापतोल विभाग के प्रमाणित तराजू और वाट नहीं रखेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।




                                                          
Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment