मेवाड़ में ‘अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के रूबरू राजद्रोह’ विषय पर कार्यशाला Workshop on 'Subject to Freedom of Expression Treason' in Mewar





श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विद्याथी पुरस्कृत हुए

गाजियाबाद। वसुंधरा स्थित मेवाड़ विधि संस्थान ने ‘अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के रूबरू राजद्रोह’ विषय पर एक राष्ट्रीय कार्यशाला-2020 का आयोजन किया। इसमें दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न कॉलेजों से विद्यार्थियों ने बड़े उत्साह के साथ भाग लिया। मेवाड़ ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन डाॅ. अशोक कुमार गदिया ने आमंत्रित अतिथियों का सम्मान स्मृति चिह्न, शाॅल व गुलदस्ते देकर किया। इस मौके पर संस्थान की निदेशिका डाॅ. अलका अग्रवाल व मेवाड़ विधि संस्थान के प्राचार्य डाॅ. आरपी उपाध्याय भी मौजूद रहे। 

अपने स्वागत भाषण में डॉ आरपी उपाध्याय ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए मेवाड़ विधि संस्थान के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला। दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर डॉ. महावीर सिंह मुख्य वक्ता थे। जबकि इंन्द्रप्रस्थ विश्वविद्यालय के डीन एकेडमिक प्रो. (डॉ) अमर पाल सिंह मुख्य अतिथि के रूप में कार्यशाला में शामिल हुए। दोनों अतिथियों ने विषय अनुकूल अपने विचार प्रकट करके विद्यार्थियों का ज्ञानवर्द्धन किया। 

उक्त विषय पर गोलमेज चर्चा भी आयोजित की गई। इसमें अच्छा प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों निशांत राय, मोहित चैहान और आयुष जैन को क्रमशः सबसे अच्छा अनुसंधान, सबसे अच्छी सामग्री और सबसे अच्छा वक्ता के लिए सम्मानित किया गया। सर्वश्रेष्ठ टीम का पुरस्कार भी टीम बी (यश शर्मा, आकांक्षा, मोहित चैहान, अरुण कुमार, अनुग्रह सिंह, साक्षी तंवर, आयुष सिंह) को दिया गया।  



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment