पुलिस के संरक्षण में चल रहा है अवैध टैक्सी का कारोबार Illegal taxi business is going on under police protection





  • पुलिस का एक संगठीत गिरोह चला रहा टैक्सीओं का अवैध कारोबार
  • मोहनगनर चैकी की पुलिस ठेला - पटरीवालों से कर रही अवैध उगाही


                                                           सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो  

साहिबाबाद । थाना साहिबाबाद क्षेत्र की प्रमुख चैकी मोहन नगर की जड़ में प्राइवेट टैक्सियों का अवैध कारोबार चल रहा है और सरकार को रोजाना लाखों रुपए की राजस्व की चपत लगाई जा रही है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि इस कारोबार को पुलिस का संगठित गिरोह चलवा रहा है। जानकारी के अनुसार मोहन नगर चैक पर जहां यूपी रोडवेज की बसें खड़ी होकर सबारी बैठाती हैं। यहीं पर निजी कारों से सवारियों को बैठाकर अवैध ट्रांसपोर्ट चलाया जा रहा है। इन बसों के पीछे और वर्ल्ड स्क्वायर मॉल के बीच में बनी सर्विस लेन पर सरेआम यहां प्राइवेट कारों से सवारियां ढोने का काम किया जा रहा है ।इससे उत्तर प्रदेश सरकार को लाखों रुपए रोजाना का राजस्व हानि हो रही है । यही नहीं यहां कार्यरत पुलिसकमर्मी ठेली - पअरीवालों से भी उगाही करने में लगे हुए हैं, जिससे गरीबों में यहां के पुलिस के खिलाफ भारी रोष है। मोहनगनर में तैनात एक सिपाही ऐसे उगाही के कार्यो में ही व्यस्त है।
       गौरतलब बात यह है कि यहीं से चार कदम की मात्र दूरी पर मोहन नगर की पुलिस चैकी है तथा यही यातायात पुलिस के कर्मचारी बड़ी संख्या में खड़े होते हैं । इसके बावजूद यातायात पुलिस और मोहन नगर पुलिस चैकी के पुलिसकर्मियों की नजर  इन डग्गामार प्राइवेट कारों के खिलाफ तिरछी नहीं होती  और कोई कानूनी कार्रवाई कार्रवाई नहीं की जाती है।
      स्थानीय निवासियों का सीधा सीधा आरोप है कि पुलिस का एक संगठित गिरोह इस कारोबार को चलवा रहा है और बदले में मोटी कमाई पुलिसकर्मी ले रहे हैं। इस संबंध में आज जब एसपी सिटी मनीष शर्मा मिश्रा के सामने यह बात रखी गई तो उन्होंने सीओ साहिबाबाद डा. राकेश कुमार मिश्रा को निर्देश दिए कि वे तत्काल डग्गामार कारों के खिलाफ कार्यवाही करें और यह अवैध कारोबार बंद किया जाए। अगर यह धंधा पुलिसकर्मी करवा रहे हैं तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।
 अब देखना यह है एसपी सिटी के आदेश कितने दिन तक चलते हैं या कितने प्रभावी होते हैं।
सत्यपाल सिंह चैहान
फोटो कैप्शन-निजी कारों में सबारी बैठाते डग्गामार कार चालक।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment