गाजियाबाद में क्राइम कंट्रोल के साथ महिला व बाल अपराध पर नियंत्रण मेरी पहली प्राथमिकता: एसएसपी नैथानी




                                                            सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो 

गाजियाबाद। प्रदेश में हुए 14 आईपीएस अफसरों के ट्रांसफर के बाद नव नियुक्त एसएसपी कलानिधि नैथानी ने शुक्रवार को गाजियाबाद जिले का पदभार संभाल लिया है। गाजियाबाद के पूर्व एसएसपी सुधीर सिंह को भ्रष्टाचार के आरोप में गाजियाबाद से हटाकर आगरा के पीएसी 15वीं वाहिनी भेज दिया गया है। 

आज गाजियाबाद की पुलिस लाइन में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि गाजियाबाद में क्राइम पर नियंत्रण के साथ ही महिला व बाल अपराध को रोकना मेरी पहली प्राथमिकता होगी । 
उन्होंने ये भी बताया कि शिकायत मिलते ही एफआईआर दर्ज हो और उस पर त्वरित और सही कार्रवाई हो, इस पर जोर रहेगा। उन्होंने मीडिया से रूबरू होते हुए बताया कि क्राइम कंट्रोल और लोगों के विवाद को प्राथमिकता से निटपाने, लोगों में पुलिस का व्यवहार अच्छा करने व जिले में ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार आदि समस्याओं को अपनी प्राथमिकता बताई है। साथ ही बिना सिफारिश के लोगों की सुनवाई की जाएगी और सही विवेचना और निष्पक्ष जांच को भी उन्होंने अपनी प्राथमिकता बताई है।

जिले में साइबर क्राइम पर भी रहेगी नजर

आजकल साइबर क्राइम ज्यादा हो रहे हैं इसके लिए जिले में एक विशेष कार्य योजना तैयार की जाएगी और एक्सपर्ट की भी मदद के साथ पुलिस कर्मियों को इसके लिए विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी। जिले में लाखों की संख्या में पंपलेट छपवा कर लोगों में बांटी जाएंगी और लोगों के बीच जाकर घरों में साइबर क्राइम के बारे में समझाया जाएगा और जागरूक किया जाएगा कि किसी को भी अपने सोशल अकाउंट का पासवर्ड ना बताएं और अपने एटीएम कार्ड का भी पिन नंबर थोड़ा सावधानी से इस्तेमाल करें ताकि कोई साइबर ठग आपके पिन नंबर को हैक ना कर सकें साइबर क्राइम कंट्रोल करने के लिए बहुत जल्द टीम का गठन किया जाएगा।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि आमजन में पुलिस का बेहतर व्यवहार रहेगा और पुलिस कर्मियों को इस बारे में ब्रीफ किया जाएगा कि जनता के साथ अच्छा व्यवहार करें ताकि पुलिस की छवि और बेहतर बन सके गलत व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment