गहलोत मंत्रिमंडल के तेरह कैबिनेट और दस राज्यमंत्रियों ने ली शपथ Thirteen cabinet ministers of Gahlot cabinet and ten ministers swear



जयपुर ।   राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में बनी कांग्रेस सरकार के मंत्रिमंडल के तेरह कैबीनेट एवं दस राज्यमंत्रियों ने आज यहां शपथ ली।  राज्यपाल कल्याण सिंह ने राजभवन में आयोजित सादे समारोह में इन मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी। सभी ने हिन्दी में शपथ ली। 

अठारह विधायकों ने पहली बार मंत्री के रुप में शपथ ली। इनमें राज्य मंत्री के रुप में शपथ लेने वाली ममता भूपेश बैरवा एक मात्र महिला मंत्री हैं। इसी तरह पोकरण से विधायक सालेह मोहम्मद मंत्रिमंडल में एक मात्र मुस्लिम हैं।

सबसे पहले बीकानेर पश्चिम से विधायक बने बी डी कल्ला ने कैबीनेट मंत्री की शपथ ली। इसके बाद कोटा उत्तर से विधायक शांति कुमार धारीवाल, लालसोट विधायक परसादी लाल मीना, सुजानगढ विधायक मास्टर भंवर लाल मेघवाल, झोटवाड़ा से लाल चंद कटारिया, केकड़ी से रघुशर्मा, अंता से प्रमोद भाया, डीग-कुम्हेर से विश्वेन्द्र सिंह, बायतू से हरीश चौधरी, सपोटरा से रमेश मीणा, निम्बाहेड़ा से उदयलाल आंजना, सिविल लाईंस से प्रताप सिंह खाचरियावास तथा सालेह मोहम्मद ने कैबीनेट मंत्री के रुप में शपथ ली। 

इनमें श्री कल्ला पूर्व में शिक्षा मंत्री एवं प्रतिपक्ष के नेता एवं प्रदेशाध्यक्ष रह चुके हैं। इसी तरह श्री धारीवाल राज्य के स्वायत्त शासन तथा परसादी लाल मीना इससे पहले के गहलोत के दोनो मंत्रिमंडल में मंत्री रह चुके हैं। श्री मेघवाल भी शिक्षा मंत्री तथा श्री प्रमोद भाया सार्वजिनक निर्माण राज्य मंत्री रह चुके हैं। 

इसी तरह राज्य मंत्री की शपथ लेने वालों में लक्ष्मणगढ से विधायक गोविन्द सिंह डोटासरा, सिकराय से ममता भूपेश, बांसवाड़ा से अर्जुन बामनिया, कोलायत से भंवर सिंह भाटी, सांचौर से सुखराम विश्नोई, हिंडौन से अशोक चांदना, अलवर ग्रामीण से टीकाराम जूली, वैर से भजन लाल जाटव, कोटपूतली से राजेन्द्र यादव तथा भरतपुर से सुभाष गर्ग शामिल है। श्री गर्ग कांग्रेस के साथ गठबंधन दल राष्ट्रीय लोकदल के प्रत्याशी के रुप में विधायक चुने गये है।

शपथ लेने वाले मंत्रियों में श्री सालेह मोहम्मद, श्री चांदना एवं श्री जूली ने परम्परागत पगड़ी पहनकर शपथ ली। सबसे ज्यादा जयपुर संभाग से सात मंत्री बनाये गये हैं। इनमें जयपुर और भरतपुर जिले में तीन-तीन, दौसा और बीकानेर से दो-दो तथा अलवर, चुरू, चित्तौड़गढ, जालौर, बूंदी, अजमेर, कोटा, बाडमेर, करौली, जैसलमेर, सीकर, बांसवाडा एवं बारां से एक-एक विधायक को गहलोत मंत्रिमंडल में जगह मिली हैं। 
शपथ ग्रहण समारोह साढे ग्यारह बजे शुरु हुआ और करीब सवा बारह बजे समाप्त हुआ। 

जातीय आधार पर सबसे ज्यादा जाट एवं अनुसूचित जाति के चार-चार, वैश्य, अनुसूचित जाति जनजाति तथा अन्य पिछडा वर्ग के तीन-तीन मंत्री बनाये गये है। इसके अलावा ब्राह्मण एवं राजपूत समाज के दो-दो तथा गूर्जर एवं मुस्लिम समुदाय से एक-एक को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया हैं। 

शपथ ग्रहण के अवसर पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट तथा कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि गत सत्रह दिसम्बर को श्री गहलोत मुख्यमंत्री तथा श्री पायलट ने उपमुख्यमंत्री के रुप में शपथ ली थी। पन्द्रहवीं विधानसभा की 199 सीटों पर हुए में चुनाव में कांग्रेस ने 99 सीटें जबकि भाजपा ने 73 सीटे जीती। बसपा ने छह , राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने तीन एवं बीटीपी एवं माकपा ने दो-दो तथा एक सीट राष्ट्रीय लाेकदल और तेरह निर्दलीय उम्मीदवारों ने चुनाव जीता।




Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment