अगले चुनाव में वंशवाद, तुष्टिकरण की राजनीति करने वालों की अंतिम विदाई: शाह Last farewell to dynasty, appeasement politics in the next election: Shah



नयी दिल्ली, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )   भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुये आज कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में वंशवाद और तुष्टिकरण की राजनीति करने वालों की विदाई हो जायेगी। 

श्री शाह ने आज यहाँ दिल्ली प्रदेश भाजपा द्वारा आयोजित बूथ संवाद कार्यक्रम में कहा “2019 का चुनाव मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने और भाजपा की जीत के साथ-साथ वंशवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति करने वालों की अंतिम विदाई का चुनाव है।”

उन्होंने कांग्रेस पर 1984 के दंगों के आरोपियों को संरक्षण देने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा “कांग्रेस पार्टी जवाब दे कि 1984 से लेकर अब तक सिखों के नरसंहार करने वालों को सजा क्यों नहीं हुई थी? 1984 के दंगे करने वालों को हमेशा से कांग्रेस पार्टी ने संरक्षण दिया, और आज यह सिद्ध हो गया है कि 1984 में सिखों का कत्लेआम करने का काम कांग्रेस पार्टी के ही नेताओं ने किया था।”

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 1984 के सिख नरसंहार के पीड़ितों को अब तक न्याय इसलिए नहीं मिल पाया था, क्योंकि दंगे कराने वाले कांग्रेसी ही दोषियों को संरक्षण दे रहे थे। मोदी सरकार बनने पर 1984 के दंगा पीड़ितों को पाँच-पाँच लाख रुपये मुआवजा और विशेष जाँच दल के गठन से लेकर आरोपियों को सजा दिलाने तक का कार्य किया है।

दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी को घेरते हुये श्री शाह ने कहा “आज दिल्ली की जनता त्रस्त है, लेकिन अपने-आप को आम आदमी कहने वाले लोग जेड प्लस सिक्योरिटी लेकर घूम रहे हैं। आज भी दिल्ली के युवा नि:शुल्क वाई-फाई की तलाश में मोबाइल लिए घूम रहे हैं, लेकिन कहीं भी कनेक्टिविटी नहीं मिलती, दिल्ली का युवा अपने-आप को ठगा महसूस कर रहा है।”


Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment