राज्यपाल ने चार विधेयकों को दी अनुमति Governor gives permission to four bills



लखनऊ । उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने राज्य विधान मण्डल द्वारा पिछले दिनों पारित चार विधेयकों को आज मंजूरी दे दी।

राजभवन के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्यपाल ने उत्तर प्रदेश विनियोग (2018-2019 का द्वितीय अनुपूरक) विधेयक 2018, उत्तर प्रदेश शीरा नियंत्रण (तृतीय संशोधन) विधेयक 2018, उत्तर प्रदेश जल सम्भरण तथा सीवर व्यवस्था (संशोधन) विधेयक 2018 तथा उत्तर प्रदेश माल और सेवा कर (संशोधन) विधेयक 2018 को मंजूरी दी है।

विनियोग विधेयक के माध्यम से वर्तमान वित्तीय वर्ष 2018-19 में विभिन्न सेवाओं और प्रयोजनों के लिये राज्य की समेकित निधि से 8054 करोड़ 49 लाख 27 हजार रुपये निकाला जाना प्रस्तावित है।

‘उत्तर प्रदेश शीरा नियंत्रण विधेयक के माध्यम से पूर्व में अधिनियमित उत्तर प्रदेश शीरा नियंत्रण अधिनियम 1964 की कुछ धाराओं में संशोधन किया गया है।

उत्तर प्रदेश जल सम्भरण तथा सीवर व्यवस्था (संशोधन) विधेयक 2018 द्वारा पूर्व में अधिनियमित मूल अधिनियम उत्तर प्रदेश जल सम्भरण तथा सीवर व्यवस्था अधिनियम 1975 की धारा 7 की उपधारा (3) को निकाल दिया गया है।

‘उत्तर प्रदेश माल और सेवा कर (संशोधन) विधेयक 2018’ के माध्यम से उत्तर प्रदेश में पूर्व से अधिनियमित ‘उत्तर प्रदेश माल और सेवा कर अधिनियम 2017’ की कुछ धाराओं में संशोधन किया गया है। ‘केन्द्रीय माल और सेवा कर (संशोधन) अधिनियम 2018’ एवं ‘उत्तर प्रदेश माल और सेवा कर अधिनियम 2017’ के प्रावधानों में एकरूपता बनाये रखने के उद्देश्य एवं तात्कालिकता को देखते हुये गत अक्टूबर में एक अध्यादेश जारी किया गया था। ‘उत्तर प्रदेश माल और सेवा कर (संशोधन) विधेयक 2018’ उस अध्यादेश का स्थान लेगा।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a comment