किसानों का कल्याण हमारी सरकार की प्राथमिकता: नरेंद्र मोदी Welfare of farmers is our government's priority: Narendra Modi



सांपला (हरियाणा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को हरियाणा के रोहतक जिले के गढ़ी सांपला गांव में किसान नेता सर छोटू राम की 64 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया। गढ़ी सांपला किसान नेता का पैतृक गांव है। प्रतिमा के अनावरण के बाद मोदी ने किसान नेता को पुष्पांजलि अर्पित की और उनकी याद में बने एक संग्राहलय का दौरा किया। वहां मोदी ने सर छोटू राम के जीवन पर बनी चार मिनट की डॉक्यूमेंट्री देखी। सर छोटू राम का पैतृक गांव होने के साथ ही गढ़ी सांपला हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा का गढ़ भी है।
प्रधानमंत्री ने इस बात पर हैरानी जतायी कि सर छोटू राम के प्रभाव को हरियाणा क्षेत्र तक ही सीमित क्यों रखा गया। इसके चलते कई पीढि़यां उनके जीवन से सीखने से वंचित रह गयीं। 24 नवंबर 1881 को जन्मे सर छोटू राम को किसानों का मसीहा कहा जाता है और वह स्वतंत्रता से पहले के काल में किसानों के सशक्तिकरण के लिए किसान हितैषी कानून लागू कराने में मददगार रहे थे। उन्होंने ब्रिटिश शासन के दौरान किसानों के अधिकारों की लड़ाई लड़ी।

किसानों और कारोबारियों के कल्याण के लिए अपनी सरकार की पहल का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘ किसानों और छोटे व्यापारियों के लिए बैंकों के दरवाजे खोले गए हैं ताकि उन्हें साहूकारों पर निर्भर नहीं रहना पड़े।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार किसानों को उनकी फसलों का लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए लगातार काम कर रही है। सरकार किसानों को उनकी फसलों का बीमा, आधुनिक बीज, यूरिया की पर्याप्त मात्रा, सिंचाई की अच्छी व्यवस्था तथा मिट‘टी की सेहत की बेहतरी सुनिश्वित करने की दिशा में काम कर रही है। 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और सर छोटू राम के नाती एवं केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे। इसके अलावा राज्य के मंत्री राम बिलास शर्मा एवं कैप्टन अभिमन्यु और कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा उपस्थित थे। प्रख्यात शिल्पकार एवं पद्मभूषण से सम्मानित राम वनजी सुतार ने 64 फीट ऊंची प्रतिमा तैयार की है। प्रतिमा के निर्माण के लिए राज्य के करीब 5,500 किसानों ने आधे किलोग्राम से लेकर दो किलो तक का लोहा दान किया।



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment