आप कार्यकर्ता की हत्या का राज फास killed the worker




    
                                                                                    मृतक की फाइल फोटो 
साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  लोनी रोड पर 5 अक्टूबर की भोर में एक लग्जरी कार में जलाकर मारे गए आम आदमी पार्टी के एक कार्यकर्ता की हत्या का राज थाना साहिबाबाद पुलिस ने फास कर दिया है। इस मामले में दो सगे भाइयों सहित 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनके आपस में मृतक के सामलैंगिक मित्र थे। हत्या के दिन गे पार्टी के नाम पर बुलाकर उसे पहले नशा कराया फिर उससे लाखों की रकम इंटरनेट के जरिये अपने खाते में डलवायी और फिर कार में सीट बैल्ट से बांध कर ऐसी मौत दी कि लोग समझें कि वह हादसे का शिकार हुआ है।
             
जानकारी के अनुसार 5 अक्टूबर की भोर में करीब चार बजे लोनी रोड पर भौपुरा स्थित ऑक्सीफार्म के पास में थाना साहिबाबाद की पुलिस ने एक जली हुई ब्रैस्टा कार बरामद की थी। कार में ड्राइविंग सीट पर जला हुआ नर कंकाल था। बाद में इसकी पहचान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता नवीन दास (44) के रूप में हुई। परिवार वालों ने नवीन की हत्या का शक जाहिर किया था और इस घटना को एक हादसा मानने से इनकार किया था। नवीन कुमार दास पुत्र शंकर दास निवासी इंद्रपुरी दिल्ली वेस्ट अपनी ब्रेजा कार में जली हालत में पुलिस को मिला था।  मृतक आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता था तथा एससी-एसटी सेल देखता था। इसके अलावा वह शादी इवेंट आदि का काम करने व कराने का काम  करता  था।
           
पुलिस की विवेचना में परिवार वालों का शक सच साबित हो गया और  पुलिस ने सर्विलांस तथा अन्य स्रोतों से हत्या में शामिल तीन लोगों का पता चला। बाद में  टीला मोड़ पुलिस चैकी के पास से हत्या में प्रयुक्त एक स्क्ूटी पर सवार तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने हत्या आरोपियों के नाम समर,तैयब कुरेशी और तालिब कुरेशी बताये हैं। तैयब और तालिब पुत्रगण मो.ताहिर दोनों सगे भाई हैं तथा  मुरादनगर के रहने वाले हैं। समर ओखला दिल्ली का रहने वाला है। इनकी निशान देही से नकद 4लाख 85हजार रूपये, एक आईफोन पासपोर्ट, पैन कार्ड आदि बरामद किया है। इसके अलावा प्लास्टिक की वह बोतल भी बरामद की है जिससे नवीनदास को जलाने के लिये पेट्रोल लाया गया था। 
           
सीओ साहिबाबाद डा. राकेश मिश्र ने बताया कि मामले की विवेचना में पता चला कि मृतक और हत्या आरोपियों के समलैंगिक संबंध थे और यह समलैंगिक पार्टी में होटलों में साथ साथ आते जाते थे तथा जरूरतमंद लोगों को गे पार्टी के लिए युवक उपलब्ध कराते थे। इन लोगों को पता था कि उनके साथी नवीन दास के पास मोटा पैसा है। इसलिए पहले उन्होंने गे पार्टी के नाम पर नवीन दास को बुलाया और उसे इतना नशा करा दिया कि 

वह होश खो बैठे। नशा हो जाने पर पहले उन्होंने डरा धमाका कर इंटरनेट के जरिए उसके खाते से पांच लाख रूपये अपने खाते में जमा कराये फिर उसे कार में इधर उधर घुमाते रहे और विभिन्न एटीम से नवीन के खाते से रकम निकालते रहे। बाद में नवीन कों टीला मोड़ से आगे ऑक्सी होम के पास लोनी रोड पर कार की ड्राइविंग सीट पर बैठा कर बैल्ट से बांध दिया और पैट्रोल उसके ऊपर डाल दिया ओर आग लगा दी जिससे हत्या हादसा लगे। इस मामले में चैथा व्यक्ति अभी फरार चल रहा है उससे बकाया रकम मिलने की उम्मीद पुलिस बता रही है। 



Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment