सद्भावना वेलफेयर सोसायटी में दशहरा पर बच्चों की रही धूम Goodwill Welfare Society kicks off children at Dussehra



साहिबाबाद, ( सर्वोदय शांतिदूत ब्यूरो )  वसुंधरा के सद्भावना वेलफेयर सोसायटी में दशहरा पर बच्चों ने राम - रावण युद्ध का मंचन कर समां बांध दिया। इस मौके पर रावण का पुतला जला कर लोगों ने दशहरा मनाया। 

दशहरा के मौके पर सोसायटी के पार्क में लोगों ने रावण का पुतला दहन किया। इससे पूर्व बच्चों द्वारा रोचक व भव्य राम - रावण युद्ध की लीला का मंचन किया गया। बच्चों ने कई स्तर पर अपने संवादों से लोगों को रोमांचित कर दिया। इस अवसर पर पार्क में रावण का 20 फूट का पुतला लगाया गया था, जिसे सुबह से ही सोसायटी के बच्चे देख कर प्रसन्न हो रहे थे। शाम के समय बच्चों द्वारा राम - रावण युद्ध लीला का मंचन किया गया। बच्चों के इस लीला की तैयारी सोसायटी के अध्यक्ष संजय त्रिपाठी ने किया था। 

लीला का शुभारंभ गणेश बंदना के साथ हुआ। इस मौके पर क्षेत्र के पार्षद पति विनित त्यागी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों से लोगों में आपसी भाईचारा बढ़ता है। ऐसे लीला बच्चों को भरतीय संस्कृति के तरफ प्रोत्साहित करती है। आज दशहरा हमें सीख देता है कि कभी भी अधर्म का नाश होता है और धर्म की विजय होती है। उन्होंने इस मौके पर सोसायटी के पार्क के चारदीवारी को शीघ्र बनवाने की घोषणा की। 
इस अवसर पर प्रकृति रूपा भाई डी पी पांण्डेय ने लोगों को प्रदूषण के खिलाफ पेड़ लगाओं आंदोलन चलाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि दशहरा पर हम सभी को यह संकल्प लेना चाहिए कि ज्यादा - से - ज्यादा पेड़ लगाकर अपने क्षेत्र को हरा - भरा बनायेंगे। 

रावण दहन समाजवादी पार्टी के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व साहिबाबाद विधानसभा क्षेत्र से सपा प्रत्यासी रहे विरेन्द्र यादव के कर कमलो द्वारा किया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि बच्चों का मंचन पेशेवर लोगों द्वारा की जा रही रामलीला से अलग दिल को छूने वाली है। उन्होंने कहा कि हमेशा सत्य की जीत होती है। असत्य के मार्ग पर चलने वाला को अंत रावण जैसा ही होता है। आज पूरे देश में दशहरा पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है, जो हमें सत्य पर चलने की प्रेरणा देता है। ऐसे आयोजनों से हम अपनी संस्कृति और संस्कार से रूबरू होते है। उन्होंने बच्चों द्वारा राम - रावण युद्ध के मंचन की भूरी - भूरी प्रशंसा की।

रााम के भूमिका में विध्नेश,  लक्ष्मण की भूमिका में आदि जैन, सीता के राल में अपूर्वा सिंह, रावण के रोल में आयान अफजल,  हनुमान के रोल में वंश, सुग्रीव की भूमिका में अक्षत वाही, विभिषण के रोल में कार्तिक रावत, अंगद की भूमिका में हर्षित त्रिपाठी ने रोचक अभिनय किया। इस मौके पर पर छोटे बच्चों में अक्की, वत्सल, रौनित, अंश, यश ने वानर सेना के रूप में लोगों का खूब मनोरंजन किया। 

सोसायटी के महिलाएं व लोगों ने पूर्ण  सहयोग दिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में चन्द्रप्रकाश वाही, प्रवीन वाही, रविन्द्र भंण्डारी, मिश्रा जी, योगेन्द्र चैधरी, नितिन माथुर, नितिन जैन, अरून तिवारी, गोविन्द सिंह, दीपक विश्नोई, नवीन सिंह, धीरेन्द्र जोशी, मोहम्मद अफजल, मिलन जी, अनील रावत, सक्सेना जी, नवीन सिंह, मनीष पांडेय आदि का सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम का सफल संचालन संजय त्रिपाठी ने किया। 




Share on Google Plus

0 comments:

Post a Comment